इस साल भी बिना परीक्षा दिए पास होंगे यूपी के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों के छात्र

राज्य के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा है कि इस शैक्षणिक सत्र के दौरान एक दिन भी स्कूल नहीं खुला है, इसलिए छात्रों से परीक्षा लेना व्यवहारिक नहीं है। इससे पहले 2019-20 सत्र के छात्रों को भी कोरोना और लॉकडाउन के कारण अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया गया था।

इस साल भी बिना परीक्षा दिए पास होंगे यूपी के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों के छात्र

उत्तर प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में पढने वाले पहली से आठवीं कक्षा तक के बच्चे इस साल भी बिना परीक्षा दिए पास कर दिए जाएंगे, राज्य के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने यह जानकारी दी। हालांकि बेसिक शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश की तरफ से अभी तक इसकी आधिकारिक सूचना नहीं आई है। इससे पहले बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी भी इसका संकेत दे चुके थे।

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में आयोजित एक कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से बात करते हुए डॉ. सतीश द्विवेदी ने कहा कि इस बार भी प्राइमरी स्कूलों के सभी बच्चों को पास कर अगली कक्षा में भेजा जाएगा।

"कोरोना संकट के चलते इस बार पूरे सत्र के दौरान प्राइमरी स्कूल बंद रहे, इससे कक्षाओं का पाठ्यक्रम पूरा नहीं हो पाया है। ऐसी स्थिति में सरकार ने पिछले वर्ष के अंकों के आधार पर बच्चों को अगली कक्षा में प्रमोट करने का निर्णय लिया है।"

प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग से मान्यता प्राप्त प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा में करीब 1 करोड़ 60 लाख विद्यार्थी हैं। कोरोना और लॉकडाउन के कारण 15 मार्च, 2020 से अब तक ये परिषदीय स्कूल खोले नहीं जा सके हैं। मार्च में स्कूल बंद होने के कारण 2019-20 सत्र की भी परीक्षाएं नहीं हो पाई थीं। वहीं वर्तमान हालात को देखते हुए इस सत्र में भी स्कूलों के मार्च तक खुलने की संभावना भी ना के बराबर है।

कोविड वैक्सीनेशन अभियान के विस्तार और कोविड संक्रमण की दर न्यूनतम होने के बाद ही ये स्कूल खुलेंगे। हालांकि इस दौरान ऑनलाइन क्लास और दूरदर्शन के जरिए बच्चों की पढ़ाई जारी रखने की कोशिश की गई है। उधर, मिड डे मील की जगह बच्चों को महीने के अनुसार सूखा राशन भी बांटा जा रहा है।

दूसरी तरफ़ राज्य के 9वीं से 12वीं तक के स्कूल अब विशेष नियमों और शर्तों के साथ खुल गए हैं। सरकार ने बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियाँ भी शुरू कर दी हैं। परीक्षा की तारीखों का ऐलान तो अभी तक नहीं हुआ, लेकिन यूपी बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों की सूची घोषित कर दी है। कोविड को देखते हुए 2020 के 7,783 परीक्षा केंद्रों के स्थान पर इस बार कुल 8,497 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इस बार 714 परीक्षा केंद्रों की बढ़ोतरी हुई है। बोर्ड परीक्षा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के अन्य मानकों का भी पालन किया जाएगा। परीक्षाओं की तारीख़ें फरवरी के मध्य तक जारी हो सकती है।

ये भी पढ़ें- 31 जनवरी को होने जा रही सीटेट परीक्षा के लिए इन बातों का रखें विशेष ध्यान

राजस्थान JEN भर्ती परीक्षा 2020 पेपर लीक मामला : नाउम्मीदी और जांच के आश्वासन की गफलत में फंसे हजारों युवा

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.