World Cup 2019: केन विलियमसन के सामने इतिहास दोहराने उतरेंगे विराट कोहली

2008 अंडर-19 विश्व कप के सेमीफाइनल मुकाबले में भारत ने न्यूजीलैंड को मात दी थी। तब भारत अंडर-19 टीम के कप्तान विराट कोहली और न्यूजीलैंड अंडर-19 टीम के कप्तान केन विलियमसन थे।

Daya SagarDaya Sagar   9 July 2019 7:56 AM GMT

World Cup 2019: केन विलियमसन के सामने इतिहास दोहराने उतरेंगे विराट कोहली

लखनऊ। वर्ल्ड कप के ग्रुप राउंड के मैच खत्म हो चुके हैं और सेमीफाइनल लाइन अप तय हो चुका है। सेमीफाइनल मुकाबले में भारत का सामना न्यूजीलैंड तो दूसरे नंबर की टीम ऑस्ट्रेलिया का सामना मेजबान इंग्लैंड से होगा।

वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में भारतीय टीम का सामना कीवी टीम न्यूजीलैंड से होगा। यह मुकाबला मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड ग्राउंड में खेला जाएगा। इस मुकाबले में विराट कोहली की सेना केन विलियमसन की टीम के सामने इतिहास दोहराने उतरेगी।


दरअसल 2008 अंडर-19 विश्व कप के सेमीफाइनल मुकाबले में भारत और न्यूजीलैंड की अंडर-19 टीमें भिड़ीं थी। तब भारत अंडर-19 टीम के कप्तान विराट कोहली और न्यूजीलैंड अंडर-19 टीम के कप्तान केन विलियमसन थे। उस मैच में भारतीय टीम ने तीन विकेट से जीत हासिल की थी।


विश्व कप में भारत और न्यूजीलैंड

अगर भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप रिकॉर्ड की बात की जाए तो दोनों टीमों के बीच अब तक 8 मैच हुए हैं। जिसमें कीवी टीम ने चार जबकि टीम इंडिया ने तीन मैच जीते हैं। जबकि एक मैच ड्रॉ रहा है।

1975 और 79 विश्व कप में भारत को मिली थी हार

भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड कप के पहले दो मैचों में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था। जहां 1975 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड ने भारत को 4 वहीं 1979 विश्व कप में 8 विकेट से हराया था।


1987 में घर पर दो बार हराया

फिर इन दोनों टीमों का मुकाबला 1987 वर्ल्ड कप में दो बार होता है, जहां पर भारतीय टीम न्यूजीलैंड को दोनों बार पिटती है। दूसरे मैच में सुनील गावस्कर ने शानदार सेंचुरी मारी थी, जो वन डे मैचों में उनका एक मात्र शतक है। सुनील गावस्कर ने 88 गेंदों में 103 रन की शानदार पारी खेली थी जिसमें 10 चौके और 3 छक्के शामिल थे।


1992 और 99 विश्व कप में फिर मिली हार

घर में कीवी टीम को दो बार हराने के बाद टीम इंडिया लगातार दो मैच हार गई। 92 में सचिन तेंदुलकर ने 84 रन की शानदार पारी खेली थी जबकि 99 में अजय जडेजा ने शानदार 76 रन बनाए थे लेकिन टीम को हार मिली थी।


2003 में टीम इंडिया को मिली बड़ी जीत

इसके बाद दोनों टीमें दक्षिण अफ्रीका में हो रही 2003 विश्व कप में भिड़ीं थी जिसमें भारत ने 7 विकेट की बड़ी जीत हासिल की थी। इस मैच में जहीर खान के 4 विकेट के बाद मोहम्मद कैफ ने शानदार 68 रन बनाए थे। द्रविड़ ने 53 रन बनाए थे। इसके बाद से दोनों टीमें वर्ल्ड कप में कभी नहीं भिड़ी हैं।


दोनों टीमों की वर्तमान फॉर्म

कीवी टीम को इस वर्ल्ड कप की शुरूआत में प्रबल दावेदार माना जा रहा था, लेकिन वह इस समय खराब फॉर्म से जूझ रही है। न्यूजीलैंड की टीम ने अपने ग्रुप के आखिरी तीनों मुकाबले गवाएं हैं।

इन दोनों टीमों के बीच विश्व कप के दौरान खेले जाने वाला लीग मुकाबला ड्रॉ रहा था। हालांकि इससे पहले विश्व कप के अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड की टीम ने भारत को 6 विकेट के बड़े अंतर से हराया था।


वहीं इस साल की शुरूआत में भारतीय टीम न्यूजीलैंड के दौरे पर गई थी, जहां पर भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को 5 मैचों की सीरीज में 4-1 से हराया था। हालांकि टी-20 सीरीज में उसे 2-1 से हार मिली थी।

टीम कॉम्बिनेशन- भारतीय टीम के लिए सिरदर्द

भारतीय टीम के लिए बड़ा सिरदर्द टीम कॉम्बिनेशन होगा और देखना होगा कि ओल्ड ट्रैफर्ड की पिच पर टीम किस कॉम्बिनेशन के साथ जाएगी। इस विश्व कप में भारतीय टीम दो मैच यहां खेल चुकी है, जहां उसने पहली पारी में बल्लेबाजी कर जीत हासिल की है। इस मैच में भी टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करना चाहेगी।

पिछले मैच में प्रयोग के तौर पर रवींद्र जडेजा को टीम में शामिल किया गया था, वहीं युजवेंद्र चहल को बाहर किया गया था। अब देखना होगा कि रवींद्र जडेजा टीम में बने रहेंगे या नहीं? वहीं दूसरी तरफ इस मैच में मोहम्मद शमी की वापसी हो सकती है। वह भुवनेश्वर कुमार की जगह शामिल हो सकते हैं। भारतीय टीम अपने बैटिंग ऑर्डर में कोई बदलाव नहीं करना चाहेगी।

रोहित शर्मा की निगाहें सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड पर

इस विश्व कप में पांच शतक लगाने वाले रोहित शर्मा इस मैच में सचिन तेंदुलकर के एक वर्ल्ड कप में सर्वाधिक रन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। इस विश्व कप में रोहित ने अब तक आठ मैचों में 92.42 की औसत से 647 रन बनाये हैं और उन्हें किसी एक वर्ल्ड कप में सर्वाधिक रन बनाने के तेंदुलकर के रिकार्ड को तोड़ने के लिए केवल 27 रन की जरूरत है।


तेंदुलकर ने दक्षिण अफ्रीका में 2003 में खेले गये विश्व कप में 11 मैचों में 61.18 की औसत से 673 रन बनाए थे। इसके अलावा रोहित शर्मा वर्ल्ड कप में सचिन के सर्वाधिक शतक के रिकॉर्ड को भी तोड़ सकते हैं। अभी रोहित शर्मा के नाम सचिन तेंदुलकर के बराबर ही वर्ल्ड कप में 6 शतक है। वह इस मैच में शतक जमाकर सचिन के इस रिकॉर्ड को भी तोड़ना चाहेंगे।

यह भी पढें- World Cup: भारत-श्रीलंका जब भी भिड़े हैं, इतिहास बना है

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top