Top

डच फुटबाल क्लब निजमेगेन के लिए खेलेंगे भारत के 13 साल के क्षितिज

डच फुटबाल क्लब निजमेगेन के लिए खेलेंगे भारत के 13 साल के क्षितिजक्षितिज पीएसवी इंडहोवन के साथ नीता अंबानी

नई दिल्ली (आईएएनएस)। दिल्ली के रहने वाले 13 साल के क्षितिज कुमार सिंह ने अपनी शानदार प्रतिभा के दम पर नीदरलैंड्स के फुटबाल क्लब एनईसी निजमेगेन की अंडर-15 टीम में जगह बनाई है।

क्षितिज के सपनों को उड़ान देने में 'रिलायंस फाउंडेशन यंग चैम्प्स' का सबसे अहम योगदान हैं। यह रिलायंस फाउंडेशन की ओर से शुरू की गई एक पहल है, जिसका लक्ष्य देश में 11 से 14 साल की उम्र के बीच के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की खोज करना और उन्हें उनकी प्रतिभा को दर्शाने के लिए एक मंच प्रदान करना है।

ये भी पढ़ें : किसान क्रेडिट कार्ड ने बनाया किसानों को कर्ज़दार, यूपी में 79 लाख किसान परिवार कर्जदार

एनईसी निजमेगेन एक पेशेवर फुटबाल क्लब है, जो नीदरलैंड्स के एर्सेते डिविजे में खेलता है। इसकी युवा टीम ने नीदरलैंड्स यूथ लीग में भी हिस्सा लिया है। इसके अलावा, टीम ने अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंटों में यूरोप के शीर्ष स्तरीय क्लबों के खिलाफ मुकाबले भी खेले हैं। 'रिलायंस फाउंडेशन यंग चैम्प्स' की उभरती प्रतिभा के प्रतीक क्षितिज पीएसवी इंडहोवन और निजमेगेन के साथ दो ट्रायल दौरों के लिए नीदरलैंड्स गए थे, जिसके बाद वह निजमेगेन की टीम में शामिल हुए।

क्षितिज अभी 13 साल के हैं। उन्होंने छह साल की उम्र से ही बाइचुंग भूटिया अकादमी में फुटबाल का अभ्यास करना शुरू किया था। इसके बाद उन्होंने एफसीबी स्कोला में प्रशिक्षण लिया। पिछले साल दिल्ली डायनामोज की ओर से 'रिलायंस फाउंडेशन यंग चैम्प्स' के लिए आयोजित एक स्काउटिंग समारोह में आईएसएल ग्रासरूट अभियान के तकनीकी निदेशक पीट हबर्स की नजर पहली बार क्षितिज पर पड़ी थी। 'रिलायंस फाउंडेशन यंग चैम्प्स' के साथ जुड़ने के बाद अब तक खेले गए 29 मैचों में क्षितिज ने 31 गोल दागे हैं।

ये भी पढ़ें : यूपी की आधे से ज्यादा आबादी हर साल होती बीमार, केवल सरकारी अस्पतालों में 11 करोड़ मरीज

इस उपलब्धि पर खुशी जताते हुए रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक और चेयरमैन नीता अंबानी ने कहा, ''हम इस प्रकार के विकास से बेहद खुश हैं। क्षितिज भारतीय फुटबाल का भविष्य हैं। आशा है कि वह भारत में अन्य खिलाड़ियों के लिए मार्ग प्रशस्त करेंगे।''

ये भी पढ़ें : ‘उत्तर प्रदेश 2018 तक पूरी तरह खुले में शौच से होगा मुक्त’

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.