विश्वनाथन आनंद ने मैग्नस कार्लसन को हरा विश्व रैपिड शतरंज खिताब जीता 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   29 Dec 2017 7:20 PM GMT

विश्वनाथन आनंद ने मैग्नस कार्लसन को हरा विश्व रैपिड शतरंज खिताब जीता विश्व चैम्पियन मैग्नस कार्लसन को हराने के बाद विश्वनाथन आनंद।

नई दिल्ली (भाषा)। विश्व चैम्पियन मैग्नस कार्लसन को हराने के बाद विश्वनाथन आनंद ने शानदार लय बरकरार रखते हुए रियाद में विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियनशिप खिताब जीत लिया।

विश्वनाथन आनंद 48 साल की उम्र में इस खिताब को जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बने। इससे पहले पिछले साल यू्क्रेन के वासिले इवानचुक ने 47 वर्ष की उम्र में इसे अपने नाम किया था।

आनंद ने दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी कार्लसन को नौवे दौर में हराकर 2013 विश्व चैम्पियनशिप में मिली हार का बदला चुकता कर लिया। उन्होंने 2013 में यह खिताब कार्लसन को गंवाया था जबकि 2003 में उन्होंने फाइनल में ब्लादीमिर क्रामनिक को हराकर खिताब जीता था। वह आखिरी पांच राउंड की शुरुआत के वक्त संयुक्त दूसरे स्थान पर थे जब रुस के ब्लादीमिर फेडोसीव और इयान नेपोम्नियाश्चि के भी 15 में से 10-5 अंक थे। आनंद ने टाइब्रेकर में फेडोसीव को 2-0 से हराकर खिताब जीता।

यह भी पढ़ें बंपर मुनाफे के लिए इस तरीके से करें फूल गोभी की खेती, तस्वीरों में देखिए गोभी की यात्रा

आनंद ने 14वें राउंड में सफेद मोहरों से रुस के अलेक्जेंडर ग्रिसचुक को हराने से पहले दो ड्रा खेले। दूसरी ओर कार्लसन को रुस के ब्लादीस्लाव अर्तेमीव ने ड्रा पर रोका जिससे आनंद उनके साथ संयुक्त शीर्ष पर आ गए।

यह पढ़ें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए कलंक बन रही काली नदी, 1200 गाँव बीमारियों की चपेट में

आखिरी दौर में आनंद ने चीन के बू शियांग्जी से ड्रा खेला जबकि कार्लसन को ग्रिसचुक के हाथों अप्रत्याशित हार झेलनी पड़ी। पंद्रह दौर के बाद आनंद छह जीत और नौ ड्रा के बाद अपराजेय रहे।इस सत्र में खराब फार्म से जूझ रहे आनंद ने वर्ष का अंत खिताबी जीत से करके नए सत्र के लिए उम्मीदें जगाई हैं।

स्पोर्ट्स से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

विश्वनाथन आनंद 1987 में 17 साल की उम्र में वर्ल्‍ड जूनियर चैंपियनशिप जीतकर यह कारनामा करने वाले वे पहले एशियाई बने। 21 माह तक लगातार दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी रहे हैं। जो समय के मामले में छठा सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। वर्ष 1991 में राजीव गांधी खेल रत्‍न से नवाजे गए पहले खिलाड़ी हैं। वर्ष 2007 में पद्मविभूषण पाने वाले पहले खिलाड़ी हैं। वर्ष 2002 और 2007-13 के बीच विश्व चैंपियन रहे हैं।

भारत को आप पर गर्व : राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शतरंज खिलाडी विश्वनाथ आनंद को विश्व रैपिड शतरंज चैम्पिनयशिप का खिताब जीतने पर आज यहां बधाई दी। राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, विश्वनाथ आनंद को विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियनशिप जीतने पर बधाई। दशकों से ऐसा उत्कृष्ट प्रदर्शन हम सभी को प्रेरणा देते हैं, भारत को आप पर गर्व है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी शतरंज के इस दिग्गज को बधाई देते हुए कहा कि देश को उन पर गर्व है। मोदी ने ट्वीट किया, आनंद को बधाई। आप ने बार बार अपनी मानसिक मजबूती को दर्शाया है. आपकी दृढता हमारे लिए प्रेरणास्रोत है। विश्व रैपिड शतरंज में आपकी अनुकरणीय सफलता पर भारत को गर्व है।

खेल एवं युवा मामलों के मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड ने भी आनंद को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया,विश्व रैपिड शतरंज खिताब जीतने पर आनंद को बधाई। दृढ़ता, मानसिक मजबूती और कभी ना हार मानने वाला रवैया आपको शतरंज ही नहीं बल्कि सभी खिलाडयिों का प्रेरणास्रोत बनाता है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी उन्हें शुभकामनाएं दी। राहुल ने ट्विटर पर कहा, आनंद को विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियनशिप जीतने पर बधाई। भारत को आप पर फख्र है।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top