स्वयं प्रोजेक्ट

बारह साल पहले लिया कर्ज, अब 47 कर्जदारों को देना होगा दोगुने से ज्यादा रकम

आभा मिश्रा, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

कन्नौज। उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम लिमिटेड से कर्ज लेने के बाद कई लाभार्थियों ने किस्त नहीं जमा की। 12 साल बाद मूलधन बढ़कर दोगुने से अधिक हो गया। एक सप्ताह का समय देते हुए अंतिम नोटिस भेजा गया है। इसके बाद विधिक कार्रवाई की जाएगी। 47 लोगों पर इस समय करीब 21 लाख का बकाया है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला प्रबंधक पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम लि0/जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी राजेश कुमार बघेल ने बताया, ‘‘वर्ष 2005 में 63 लोगों ने अलग-अलग व्यवसाय के लिए लोन लिया था। सिर्फ 16 लाभार्थियों ने ही कर्ज वापस किया। 47 लोगों पर अब भी बकाया है। उनको अंतिम नोटिस भेजा गया है। एक सप्ताह के बाद कार्रवाई की जाएगी।”

ये भी पढ़ें : फसल ऋण पर ब्याज छूट योजना जारी रहेगी

जिला प्रबंधक ने आगे बताया कि ‘‘समय से लोन न लौटाने की वजह से लिए गए धन के सापेक्ष दो गुने से अधिक कई लाभार्थियों को जमा करना पड़ेगा। किस्त पांच साल में पूरी करनी थी, लेकिन 12 साल हो गए।’’ विभाग के वरिष्ठ लिपिक अनुज कुमार बताते हैं, ‘‘कुछ नोटिस बची हैं उनको दूसरी खेप में भेजा जाएगा। रिकवरी का आदेश उच्चाधिकारियों ने किया है।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।