पुलिस ने अवैध शराब की फैक्ट्री पर की छापेमारी, नशीली वस्तुएं और शराब जब्त

पुलिस ने अवैध शराब की फैक्ट्री पर की छापेमारी, नशीली वस्तुएं और शराब जब्तगंगा नदी किनारे स्थित एक पुरानी हवेली में चल रही थी शराब फैक्ट्री 

उपदेश कुमार

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

बिल्हौर (कानपुर)। कोतवाली के गदनपुर चोरसा गाँव में पुलिस ने अवैध शराब फैक्ट्री और शराब बनाने की फैक्ट्री पर छापा मारा। इस कार्रवाई में पुलिस ने शराब बनाने का रसायन जब्त कर चार लोगों को रंगे हाथों पकड़ा है।

डीआईजी सोनिया सिंह के आदेश पर सीओ बिल्हौर सुबोध कुमार के निर्देषन में कोतवाल इंसपेक्टर रमेश चंद्र पांडे, एसआई मणिशंकर मिश्र, अनिल पांडे सहित कांस्टेबल रमाकांत, हाशिम, अशोक, उस्मानी, मुकेश आदि की टीम ने गदनपुर आहार में लालाजी की पुरानी हवेली में छापेमारा।

कोतवाली के गदनपुर चोरसा गाँव में पुलिस ने अवैध शराब फैक्ट्री पर मारा छापा।

पुलिस ने पकड़े गए लोगों की निशानदेही पर तीव्र क्षमता की छह कार्टून शराब, 20 ग्राम की भरी सील पैक देशी शराब की सैकड़ों बोतलें, 50 लीटर के आठ स्प्रिट रसायन भरे हुए बड़े-बड़े कैन, देशी शराब की खाली दस हजार बोतलें, 10 हजार शराब की शीशियों की ढक्कन, शराब ब्रॉड के हजारों रेपर, शराब पैकेजिंग मशीन, एक लाइसेंसी बूंदक, एक कट्टा, पांच कारतूस, पांच मोबाइल, एक क्वायलिस कार, एक बाइक, लाखों रुपए के खरीद-बिक्री के दस्तावेज, एक अदद एल्कोहल मापक यंत्र आदि की बरामद किया है। पुलिस ने पकड़े गए सभी लोगों को पुलिस ने जेल भेजा है।

पुलिस हवेली के केयर टेकर बाबूलाल यादव पुत्र जगदंत यादव, पवन कुमार यादव पुत्र बाबूलाल निवासी गदनपुर, सोनेलाल पुत्र शिवप्रसाद, धीरज पुत्र राजेंद्र नाथ निवासी फतेहपुर चैरासी जिला उन्नाव को अवैध शराब की बोतलों और शराब को तैयार करते रंगे हाथों पकड़ा। जबकि बिलग्राम हरदोई निवासी छोटे लाल पुलिस को चकमा देकर भाग गया।

Share it
Top