बिना रजिस्ट्रेशन नहीं चलेंगे कोचिंग सेंटर

बिना रजिस्ट्रेशन नहीं चलेंगे कोचिंग सेंटरजनपद में सैकड़ों अवैध कोचिंग सेंटर चल रहे हैं जहां मनमानी फीस वसूली जाती है।

अनिल चौधरी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

पीलीभीत। जनपद में सैकड़ों अवैध कोचिंग सेंटर चल रहे हैं जहां पर अभिभावकों से मनमानी फीस वसूली जाती है। अधिकतर कोचिंग सेंटर चलाने वाले अध्यापक किसी न किसी विद्यालय में अध्यापन कार्य भी करते हैं, लेकिन अब शिक्षा विभाग ने ऐसे कोचिंग सेंटरों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

माध्यमिक शिक्षा विभाग ने ऐसे अवैध कोचिंग सेंटरों को रजिस्ट्रेशन कराने के लिए जून तक का समय दिया गया है। इसके बाद जुलाई में सभी अवैध कोचिंग सेंटरों पर छापामार कार्रवाई करके जुर्माना लगाने की कार्रवाई की जाएगी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन ए

इन अवैध कोचिंग सेंटरों के चलने से विद्यालय में अध्यापक अपना अध्यापन कार्य ठीक से नहीं करते जिसके कारण स्कूलों में अधिकतर क्लासों में छात्र-छात्राओं की संख्या कम होती जा रही है।

इन विद्यालयों के अधिकतर बच्चे कोचिंग सेंटरों में जाकर पढ़ाई करते हैं। यह कोचिंग सेंटर अवैध रूप से संचालित किए जा रहे हैं। जिसके कारण सरकार को भी आर्थिक रूप से नुकसान उठाना पड़ता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top