आवारा सूकर और गंदगी से परेशान महिलाओं ने किया नगर निगम में प्रदर्शन 

आवारा सूकर और गंदगी से परेशान महिलाओं ने किया नगर निगम में प्रदर्शन महिला बाल संगठन के नेतृत्व में महिलाओं ने नगर निगम जोन तीन का किया घेराव।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। बजबजाती नालिया, कूड़े के ढेर और जगह-जगह घूमते आवारा सूकरों से परेशान आक्रोशित महिलाओं ने गुरुवार को नगर निगम जोन तीन के कार्यालय पर प्रदर्शन कर जोनल अधिकारी को ज्ञापन दिया। महिला बाल संगठन की अध्यक्ष ममता त्रिपाठी के नेतृत्व में फैजुल्लागंज वार्ड की सैकड़ो महिलाओं ने नगर निगम जोन तीन के अधिकारियो का घेराव किया और जम कर नारेबाजी भी की।

महिलाओं से संबन्धित सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ये ज्ञापन नगर स्वास्थय अधिकारी जोन तीन को भी दिया गया और कार्यवाही नहीं होने की स्थिति में उग्र प्रदर्शन की चेतावनी दी।

वहीं गायत्री नगर निवासी अश्वनी कुमार का कहना है कि यहां हर गली में इंसानों से ज्यादा सूकर हैं। इससे यहा बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। कई बार अख़बारों में यह मामला छप भी चूका है, बावजूद करवाई नहीं हो रही है। डेंगू की महामारी के दौरान आवारा पशुओं और सूकर पकड़ने का अभियान चला था, जिससे डरकर सूकर पालक अपने पशु खुद पकड़ने लगे थे, लेकिन अभियान बंद होते ही फिर से वैसे ही हालत हैं। नगर पशु चिकित्सा अधिकारी अरविन्द कुमार राव को सैकड़ो बार फोन किया, लेकिन उन्होंने रिसीव नही किया। जबकि नगर निगम अधिकारी ऑफिस से बाहर नहीं निकलना चाहते।

क्या बीमारी बाद मौतों से जागेंगे जिम्मेदार

प्रदर्शनकारी महिलाओं का नेतृत्व कर रही सामाजिक कार्यकर्ता ममता त्रिपाठी का कहना है कि लगता है अफसर अखबारों में बीमारी से हुई फैजुल्लागंज में मौतों की खबर पढ़ने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। ज्ञातव्य है कि विगत बर्ष फैजुल्लागंज में डेंगू से 65 लोगों की मौत हो गयी थी। ममता त्रिपाठी का आरोप है कि फैजुल्लागंज 2 वार्ड के गली मोहल्लों में कहीं भी सफाई नहीं हो रही है। क्षेत्र में फागिंग भी नहीं हो रही।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top