जिला विद्यालय निरीक्षक ने दस स्कूलों काे लिया गोद

जिला विद्यालय निरीक्षक ने दस स्कूलों काे लिया गोदप्रतीकात्मक तस्वीर।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

इलाहाबाद। प्रदेश सरकार ने स्कूलों की स्थिति सुधारने के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को विद्यालय गोद लेने का निर्देश जारी किया है। शासनादेश पर जिले के विद्यालय निरीक्षक ने 10 विद्यालयों को गोद लिया है। इन विद्यालयों में शैक्षणिक व्यवस्था में सुधार के लिए योजना तैयार की गई है।

जिले के कुछ शासकीय और अशासकीय विद्यालयों में शिक्षा का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। जानकारों के मुताबिक, इनमें कुछ ऐसे विद्यालय हैं जो कभी मेरिट में अपना स्थान बनाते थे, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से इन विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की संख्या लगातार कम होती जा रही है जो कि चिंताजनक है। इसी रिपोर्ट पर प्रदेश की सरकार की ओर से निर्देश जारी किया गया है।

ये भी पढ़ें- घर में किचन गार्डन बनाना चाहते हैं तो अपनाएं ये टिप्स

संयुक्त शिक्षा निदेशक की ओर से जारी निर्देश पर जिला विद्यालय निरीक्षक राम नारायण वर्मा ने राजकीय बालिका इंटर कालेज कटरा और फाफामऊ, द्वारिका प्रसाद गर्ल्स इंटर कॉलेज, क्रास्थवेट बालिका इंटर कॉलेज, राजकीय इंटर कॉलेज, शिवचरण दास कन्हैया लाल इंटर कॉलेज, एंग्लो बंगाली इंटर कॉलेज, केपी इंटर कॉलेज, सीएवी इंटर कॉलेज को गोद लिया है। इन विद्यालयों में शिक्षा का स्तर और छात्र-छात्राओं की संख्या ऊपर उठाने के लिए प्रयास किए जाएंगे।

शासकीय विद्यालयों में संशाधनों की कमी

शासकीय और अशासकीय विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की कम होती संख्या की वजह पूरी तरह से निजी स्कूल-कालेजों में उपलब्ध संसाधनों और शैक्षणिक व्यवस्था को जिम्मेदार माना जा रहा है जबकि शासकीय विद्यालयों में आज भी संशाधनों की कमी बनी हुई है।

ये भी पढ़ें- बासी फूलों का ऐसा उपयोग... कमाई भी और सफाई भी

शिक्षकों और अभिभावकों संग करेंगे बैठक

जिला विद्यालय निरीक्षक राम नारायण विश्वकर्मा गोद लिए विद्यालयों के शिक्षक और अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के साथ बैठक कर जानकारी इकट्ठा कर आवश्यक कदम उठाएंगे। जिला विद्यालय निरीक्षक अभिभावकों के घर जाकर सुधार सम्बन्धी सुझाव लेंगे। शासकीय और अशासकीय विद्यालयों के शैक्षणिक कार्यो में सुधार और छात्रों की संख्या बढ़ाने के लिए शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी विद्यालयों को गोद लेंगे।

जिला विद्यालय निरीक्षक रामनारायण विश्वकर्मा ने बताया गोद लिए स्कूलों में सुधार के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे, शेष अन्य विद्यालयों को भी गोद लेकर विकास किया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top