बिजली कटौती व लो वोल्टेज की समस्या ने जनता को रुलाया  

बिजली कटौती व लो वोल्टेज की समस्या ने जनता को रुलाया  प्रतीकात्मक तस्वीर

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। माल-मलिहाबाद फलपट्टी क्षेत्र को 21 घण्टे बिजली उपलब्ध कराने का दावा झूठ साबित हो गया। यहां 18 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के लिए पुनः नया रोस्टर लागू किया गया है, फिर भी अघोषित कटौती के चलते महज 8 से 9 घंटे ही बिजली आपूर्ति की जा रही है।

माल निवासी किसान देवेंद्र सिंह(65 वर्ष) का कहना है, “किसानों को पर्याप्त बिजली न उपलब्ध हो पाने से धान की रोपाई, जानवरों का चारा अन्य प्रकार की फसलों को उगाने व उनकी सिंचाई करने में काफी दिक्कत हो रही है।” वहीं रामनगर निवासी श्रीराम (50 वर्ष) का कहना है, “बिजली की यही स्थित रही तो किसान भूखमरी की कगार पर पहुंच जाएगा।”

ये भी पढ़ें- सीएम योगी ने मुफ्त बिजली कनेक्शन योजना का किया शुभारंभ

मोहनलालगंज के ग्राम पुरहिया निवासी कल्लु मिश्र (45 वर्ष) ने बताया, “फिलहाल तो लाइट पहले से सही आ रही है, लेकिन 18 घंटे पूरी लाइट नहीं आ रही है।” वहीं मलिहाबाद क्षेत्र के भुसौली गाँव निवासी पप्पू द्विवेदी ने बताया, “लाइट का रोस्टर सही नहीं है। किसान यूनियन के प्रदर्शन में बिजली विभाग के बड़े अधिकारियों ने 18 घंटे लाइट का आश्वासन दिया था, लेकिन वायदे के अनुसार विद्युत आपूर्ति नहीं की।” बीकेटी ब्लॉक के ग्राम दुघरा निवासी गोला बताते हैं, “बिजली से कोई शिकायत नहीं है। बिजली 24 घंटे आ रही है।”

बीकेटी के अधिशाषी अभियंता रामप्रकाश बताते है क्षेत्र में 24 घंटे विद्युत आपूर्ति की जा रही है। कोशिश है उपभोक्ताओं को किसी दिक्कत का सामना न करना पड़े।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top