कन्नौज में बेटियों की शादी से पहले किसान की जमा-पूंजी हुई जलकर राख

Ajay MishraAjay Mishra   9 April 2017 8:45 PM GMT

कन्नौज में बेटियों की शादी से पहले किसान की जमा-पूंजी हुई जलकर राखबर्बाद हुई मेहनत को देखकर रोतीं रौशनी और रजनी। 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

सौरिख (कन्नौज)। घर में दो बेटियों की शादी की तैयारियां चल रही थीं, हर ओर खुशी का माहौल था। पिता किसान ने मेहनत से सींची गेहूं की फसल भी पककर तैयार हो गई थी लेकिन आग ने इन किसानों के लिए ऐसा कहर ढाया कि एक भी दाना नहीं छोड़ा। अब रिश्तेदारों की तो बात दूर की वो परिवार को रोटी नहीं खिला पाएंगे। किसान बेबस था तो बेटियों का रोकर बुरा हाल था।

जिला मुख्यालय से करीब 55 किमी दूर बसे सौरिख थाना इलाके के गाँव गुबरिया में रविवार को आग ने खूब तांडव मचाया। हादसा हाईटेंशन लाइन टूटने से हुआ जिससे किसान अमर सिंह, वीरपाल, विद्यादेवी, राजू, विजय बहादुर, रामसेवक, सतीश चन्द्र और मल्लू की गेहूं की फसल जलकर राख हो गई।

उन्नाव में आग से 40 बीघा फसल जलकर राख

रविवार को उन्नाव जिले में भी इसी तरह हाईटेंशन तार से आग लगने के कारण करीब 10 लाख से अधिक की फसल जलकर बर्बाद हो गई।

इन किसानों के बटाईदार मनीष और कुंवरपाल की मुसीबतें और ज्यादा बढ़ गईं, क्योंकि दोनों को अपनी बेटियों रौशनी और रजनी की शादी इसी साल करनी है। फसल जलने का समाचार मिलने पर दोनों युवतियां खेतों पर पहुंची तब तक सबकुछ राख हो चुका था। गेहूं की फसल देखकर दोनों फूट-फूटकर रोने लगीं। दूसरे किसान और उनके परिजन भी मेहनत को राख में मिलते देख अपने आंसू रोक नहीं पाए।

फसल नुकसान का किसानों को एक सप्ताह हफ्ते के अंदर मिलेगा मुआवजा

कुंवरपाल ने बताया, ‘आषाढ़ में बेटी की शादी होनी है। सब कुछ जल गया। बुझाने से पहले ही छह बीघा फसल राख हो गई।’ मनीष ने बताया, ‘मुझे भी बेटी की शादी करनी है पर बर्बाद हो गया। पांच बीघा फसल बंटाई पर की थी।’ छिबरामऊ से बिधूना मार्ग बना रहे आरपीएल कंपनी का टैंकर का पानी आग बुझाने के काम आया।

उधर छिबरामऊ तहसील के एसडीएम उदयवीर सिंह ने बताया, ‘तहसीलदार, कानूनगो और लेखपाल को लगाकर सर्वे कराया जाएगा। क्षेत्रफल के हिसाब से मुआवजा दिया जाएगा। इसके लिए बिजली विभाग को लिखा जाएगा।’

रोते-बिलखते किसानों के परिवार

जब फिर सुलगी आग

खेतों में आग लगने के करीब एक घंटे बाद दमकल गाड़ी पहुंची। आग बुझाने के बाद दमकल समेत टीम चली गई लेकिन खेतों में आग फिर सुलग गई। इसको गाँव के लड़कों ने बाल्टी से पानी डालकर बुझाया।

जले खेत को देखते गांववासी

जलता गठ्ठर बाइक पर गिरा, गाड़ी जली

किसान राजू को जब सूचना मिली कि उसकी फसल में आग लग गई है तो वह बाइक से खेतों पर पहुंचकर आग बुझाने में लग गया। हवा की वजह से जलता हुआ गेहूं का गठ्ठर उसकी बाइक पर गिरा और कुछ हिस्सा जल गया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top