प्रेमी जोड़े की साजिश नाकाम, घरवालों ने ले ली बेटी की जान

प्रेमी जोड़े की साजिश नाकाम, घरवालों ने ले ली बेटी की जानहत्या के बाद मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक।

मोहम्मद परवेज, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

तिर्वा (कन्नौज)। जनपद में ऑनर किलिंग एक मामला सामने आया है। लड़की के परिजनों ने ही गला दबाकर उसकी हत्या कर दी, जबकि प्रेमी गभीर रूप से घायल है। बताया जा रहा है कि किसी तरह मौका पाकर प्रेमी भाग निकला और उसने अपनी जान बचाई। मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस के अधिकारी पहुंच गए। पुलिस ने लड़की के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं, पिता, ताऊ समेत आठ लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

मामला कन्नौज की तिर्वा थाना क्षेत्र के ग्राम विनौरा का है। प्राथमिक जांच में जो मामला सामने आया है उसके अनुसार गाँव के जीतू (19वर्ष) पुत्र राकेश वर्मा का इसी गाँव की रहने वाली वाली प्रतीक्षा (25वर्ष) से प्रेम प्रसंग था। प्रतीक्षा के घर वालों को जब इस प्रेम प्रसंग के बारे में पता चला तो वे आग बबूला हो गए।

घायल जीतू का मेडिकल काॅलेज में पहुंचकर जानकारी लेते डीएम और एसपी।

गंभीर रूप से घायल जीतू ने बताया, “ करीब एक महीने पहले हम लोग गुडगांव भी भाग चुके थे। जिसकी रिपोर्ट कोतवाली में प्रतीक्षा के पिता राजकुमार ने 13 मई को दर्ज कराई थी। हमारे प्रेम संबंध से नाराज प्रतीक्षा के घर वालों ने उसकी शादी तय कर दी थी। 28 जून को प्रतीक्षा की शादी थी, जबकि प्रतीक्षा गर्भवती भी थी।”

जीतू ने आगे बताया,“ प्रतीक्षा अन्य जगह शादी नहीं करना चाहती थी। 12 जून की रात वह मेरे घर आ गई और भाग जाने की बात कही। हम दोनों घर से भाग रहे थे। इसकी भनक लगते ही प्रतीक्षा के परिजनों ने घेर लिया और लाठी-डंडों से हमला बोल दिया।” हमले में जीतू गंभीर रूप से घायल हो गया। हमलावर जीतू को मरा समझकर छोड़ गए, वहीं प्रतीक्षा को दूसरी जगह ले जाकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। घायल जीतू को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गभीर बनी हुई है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जीतू ने तिर्वा कोतवाली में हत्या आदि धाराओं में रिपोर्ट कराई है। इसमें प्रतीक्षा के पिता राजकुमार, चाचा वीरभान, किशोरी, रामआसरे पुत्रगण गोवर्धन, ताऊ विशुनदयाल, मुकेश पुत्र रामपाल और मनीष पुत्र किशोरी को हत्यारोपी बनाया गया है।

इंस्पेक्टर आलोक यादव ने बताया, ‘‘हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। राजकुमार और विशुनदयाल को पकड़ लिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। शव को जिला अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।” उधर, कोतवाली हवालात में बंद प्रतीक्षा के पिता राजकुमार ने बताया,“ इज्जत की खातिर उन्होंने ही बेटी की हत्या कर दी है। इस काम में वह अकेले हैं और कोई भी शामिल नहीं है।” वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही डीएम जगदीश प्रसाद और एसपी हरीश चन्दर घटनास्थल पर पहुंचे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top