आज के आधुनिक युग में भी हो रही बैलों से जुताई

Akash SinghAkash Singh   28 Jun 2017 7:29 PM GMT

आज के आधुनिक युग में भी हो रही बैलों से जुताईखेतों में जुताई के आज भी बैलों का इस्तेमाल करते हैं मो. हमीद

बाराबंकी। अाज के आधुनिक युग में किसान डिस्क हैरो और ट्रैक्टर जैसे आधुनिक कृषि यंत्रों के इस्तेमाल को प्राथमिकता दे रहे हैं, वहीं बाराबंकी खेती में जिले के सिद्धौर ब्लॉक के जाफरपुर गाँव रहने वाले मो. हमीद आज भी खेती में जुताई के लिए बैलों का प्रयोग करते हैं।

मो. हमीद मानते हैं कि चाहे गाँव में बिजली रहे न रहे जब मन करे हम बैलों को लेकर खेत में जुताई करते हैं। इससे खेत में लागत भी कम आती है और खेत की उर्वरा शक्ति भी बनी रहती है।


आज जहां तेज़ी की बढ़ रहे आधुनिकीकरण के कारण किसान नए तरीके के कृषि यंत्रों का इस्तेमाल कर रहे हैं। लेकिन ट्रैक्टर के ज़माने में मो. हमीद आज भी बैलों के प्रयोग को खेत के लिए कारगर मानते हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top