घर में शौचालय बनवाने के लिए बच्चे करेंगे जिद, लिखेंगे माता-पिता को चिट्टी

घर में शौचालय बनवाने के लिए बच्चे करेंगे जिद, लिखेंगे माता-पिता को चिट्टीलोगों को जागरुक कर हर गांव में शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है।

नवनीत अवस्थी, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

उन्नाव। शिक्षक दिवस पर विद्यालयों में होने वाले कार्यक्रमों इस बार स्वच्छता से जुड़े कार्यक्रम भी शामिल किए जाएंगे। शिक्षा विभाग की खास पहल पर सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों के छात्र घर में शौचालय के लिए अभिभावकों के नाम एक पत्र लिखेंगे। पत्र में वह घर में शौचालय बनवाने की जिद करेंगे। छात्रों का हौसला बढ़ाने की जिम्मेदारी निगरानी समितियों व शिक्षकों को दी गई है।

स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रदेश के सभी जनपदों को 2 अक्टूबर 2018 तक खुले में शौच मुक्त बनाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। लोगों को जागरुक कर हर गांव में शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। इस बीच समय से लक्ष्य को हासिल करने और लोगों को जागरुक करने की मुहिम में शिक्षा विभाग भी शामिल हो गया है।

आगामी शिक्षक दिवस पर शिक्षा विभाग ने स्वच्छता संबधी गतिविधियों का आयोजन करने के निर्देश दिए हैं। जिसमें सभी विद्यालयों में छात्रों से अभिभावकों के नाम एक पत्र लिखवाया जाएगा। पत्र में छात्र घर में शौचालय बनवाने की जिद करेंगे।

इस गतिविधि में कक्षा 5 से कक्षा 12 तक के छात्र शामिल होंगे। साथ ही शिक्षक दिवस पर सुबह छात्र एक रैली भी निकालेंगे। रैली में छात्र स्वच्छता संबधी नारे लगाएंगे। रैली गांव के प्रमुख मार्गों व गलियों से होकर निकलेगी। प्रभारी बीएसए ने जिले के सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को इस आशय से संबधित निर्देश दे दिए हैं।

ये भी पढ़े- यूपी के वीआईपी जिलों में 10 फीसदी शौचालय भी नहीं बन सके

बाल समिति का होगा गठन

स्वच्छता के प्रति छात्रों को जागरुक करने के लिए हर विद्यालय में बाल निगरानी समिति भी गठित की जाएगी। समिति में दस छात्रों को शामिल किया जाएगा। यह समिति के सदस्य अन्य छात्रों में नाखून की जांच, शुद्ध पेयजल, शौचालय की सफाई व साबुन आदि की व्यवस्था पर नजर रखेंगे। कमी मिलने पर वह इससे शिक्षक को अवगत कराएंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top