कस्तूरबा की छात्राएं सीखेंगी अंग्रेजी 

कस्तूरबा की छात्राएं सीखेंगी अंग्रेजी प्रतीकात्मक तस्वीर।

राजेंद्र भदौरिया, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

उन्नाव। सरकारी स्कूल की बदहाल तस्वीर बदलने के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं। इसी क्रम में अब कान्वेंट स्कूल की तर्ज पर बेसिक शिक्षा परिषद ने कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों की छात्राओं को अंग्रेजी में एक्सपर्ट बनाने की पहल शुरू की है।

कान्वेंट स्कूल की तर्ज़ पर बेसिक शिक्षा परिषद कस्तूरबा स्कूलों की छात्राओं को स्मार्ट बनाएगा। विभाग का मानना है कि अब उनके विद्यालय की छात्राएं किसी से पीछे नहीं रहेंगी। छात्राओं को अंग्रेजी में एक्सपर्ट बनाने के पीछे उन्हें आसानी से रोजगार उपलब्ध कराने की सोच भी शामिल है। छात्राओं को ‘आओ अंग्रेजी सीखें रेडियो कार्यक्रम’ के तहत अंग्रेजी सिखाई जाएगी।

ये भी पढ़ें- ... और इस तरह देश के पहले निर्दलीय राष्ट्रपति बने थे वीवी गिरि

बीएसए दीवान सिंह ने बताया, “यूनिसेफ की मदद से ऑल इंडिया रेडियो द्वारा दो दिवसीय कार्यक्रम तय किए गए हैं। जिले के कस्तूरबा विद्यालयों की छात्राओं को इस कार्यक्रम में शामिल किया जाएगा। जिले में आठ दिवस तय किए गए हैं। कार्यक्रम को सफल बनाया जा सके, इसके लिए राज्य परियोजना निदेशक ने जिला समन्वयकों को पूरे कार्यक्रम से अवगत करा दिया है।”

बताया जा रहा है कि जिले में 28 जून से कार्यक्रम की शुरुआत हो जाएगी, जिसमें पांच और छह जुलाई को छात्राओं को अंग्रेजी बोलने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। मौजूदा समय में अंग्रेजी भाषा का क्रेज बढ़ता ही जा रहा है। हर कोई इस भाषा को सीखना चाहता है।

बेहतर नौकरी के लिए भी अंग्रेजी भाषा अब धीरे-धीरे जरूरी होती जा रही है। ऐसे में बेसिक शिक्षा विभाग ने भी अब इसकी जरूरत महसूस की है और अपने विद्यालयों की छात्राओं को अंग्रेजी में परफेक्ट करने की पहल की जाएगी। कार्यक्रम के बाद छात्राओं को अंग्रेजी का महत्व भी समझाया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top