शादी में नॉनवेज नहीं, बाराती हो रहे नाराज़

शादी में नॉनवेज नहीं, बाराती हो रहे नाराज़शादी-ब्याह में मीट न मिलने से लोग परेशान।

इश्त्याक खान ,स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

औरैया। यूपी सरकार के मीट बैन का असर इन दिनों शादी-ब्याह कार्यक्रमों पर भी पड़ रहा है। खाने में नॉनवेज न मिलने से बाराती- जनाती नाराज हो रहे हैं। लोगों को लज्जित न होना पड़े इसलिए कस्बे के संगठनों के सदस्यों ने बूचड़खानों का निरीक्षण कर अधिशासी अधिकारी से मिले और आधुनिकीकरण में सहयोग करने की मांग की।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

नगर के सोशल वेलफेयर कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष आरिफ सिद्दीकी व अल अकबर वेलफेयर सोसाइटी (मद्द फाउण्डेशन) के आसिफ राईन के साथ कई लोगों ने बूचड़खाने वाली जगह का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद लोगों ने ईओ अजय कुमार से वार्ता की और बताया कि मुस्लिम समाज के लोगों को अपनी बेटी, बेटा के निकाह के दौरान मीट न परोसने पर खरी खोटी सुननी पड़ती है और अपमान का भी सामना करना पड़ता है।

लोगों ने आगे बताया कि लाइसेंस धारक पशुओं को काटने के लिए पशु चिकित्सक भाग्यनगर ब्लॉक से परीक्षण कराने के बाद काटते हैं। अभी तक नगर पंचायत की अनदेखी के कारण इसका आधुनिकरण नहीं हो सका है। आधुनिकीकरण मदद की जाए जिससे समाज के लोगों लज्जित न होना पड़े। इस मौके पर अकुल सत्तार कुरैशी, जरीफ कुरैशी, असलम, शगीर एडवोकेट, कलाम, शकील कुरैशी, रफीक कुरैशी, शकूर, इदरीश, अली मोहम्मद आदि मौजूद रहे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top