Top

इस गाँव को आज भी है सफाई कर्मचारी का इंतजार 

इस गाँव को आज भी है सफाई कर्मचारी का इंतजार ग्राम पंचायत डिहवा में स्वच्छता कर्मी कई महीनों से नहीं आया है।

रोहित श्रीवास्तव, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

बहराइच। ग्राम पंचायत डिहवा में स्वच्छता कर्मी कई महीनों से नहीं आया है। इस कारण पंचायत में गंदगी के ढेर जगह-जगह लग गए हैं। इसके अलावा पंचायत के डिहवा गाँव में नालियों की सफाई नहीं हो पाई है, जिससे गंदा पानी गाँव की सड़क फैला रहता है।

जिले के विकास खण्ड रिसिया की ग्राम पंचायत डिहवा में मजरों की गलियां कूड़े से पटी पड़ी हैं। इसी ग्राम पंचायत को पूर्व सपा सरकार ने समग्र ग्राम का दर्जा देते हुए गाँव में आरसीसी सड़क सहित पक्की नालियों का निर्माण करवाया था।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

डिहवा निवासी मोईनुद्दीन (45 वर्ष) ने बताया, ‘‘हमारे यहां सफाई कर्मी नहीं आता है, हम लोगों को अपने आप ही नाली की सफाई करनी पड़ती है।’’ वही मौजूद लगभग 70 वर्षीय महिला फातमा ने बताया, ‘‘हमने कभी सफाई कर्मी को गाँव में सफाई करते नहीं देखा है।’’ पंचायत में पिछले छह महीनों से सफाई कर्मी नहीं आया है। गाँवों की सड़कों के ऊपर बहता घरों का गन्दा पानी जहां एकओर जलभराव की समस्या पैदा कर रहा है, वहीं ठहरे हुए पानी में मच्छर भी पनप रहे हैं।

जब ग्राम पंचायत डिहवा के प्रधान श्रीमती रेशमा बेगम से बात की गई तो ग्राम प्रधान के पति गुलाम मोहम्मद ने बताया,“ यहां के सफाईकर्मी को चार्ज लिए चार माह हो गए हैं, इसके बावजूद कोई भी सफाईकर्मी यहां पर नहीं आया है। इसके चलते हमने सफाई कर्मी के तीन माह के वेतन के प्रमाण पत्र पर मोहर भी नहीं लगाई है।” पंचायत की निवासी गुलाबों (35 वर्ष) ने बताया, ‘‘अगर नालियों की सफाई अभी नहीं हुई, तो बरसात के समय पानी घरों के अन्दर जाने लगेगा।’’

ये भी पढ़ें- सफाई कर्मचारी के हवाले आयुर्वेदिक अस्पताल

इसी मामले में जब रिसिया के खण्ड विकास अधिकारी सुशील कुमार पाण्डेय से बातचीत की गई, तो उन्होंने बताया,’’ हमको अब तक डिहवा पंचायत में सफाई सम्बन्धित कोई भी शिकायत नहीं प्राप्त हुई है। अगर हमको शिकायत मिलती है, तो हम प्राथमिकता के आधार पर ग्रामसभा में तुरंत साफ सफाई की व्यवस्था कराएंगे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.