वाराणसी में दो संप्रदायों के बीच विवाद के बाद पथराव, दर्ज हुआ मुकदमा

वाराणसी में दो संप्रदायों के बीच विवाद के बाद पथराव, दर्ज हुआ मुकदमावाराणसी में दो संप्रदायों के बीच हिंसक झड़प।

वाराणसी। सिगरा थाना क्षेत्र के विद्यापीठ परिसर के समीप दो संप्रदायों के बीच हिंसक झड़प, आगजनी व पथराव से माहौल तनावपूर्ण हो गया है। जनपद के वरिष्ठ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर कैंप कर भारी पुलिस की तैनाती कर दी है। बताया जाता है कि विद्यापीठ परिसर के समीप एक कब्रिस्तान की जमीन की चारदीवारी के बाहर कुछ लोगों ने काफी दिनों से एक झोपड़ी व टीन शेड लगा रखा था। टीनशेड में गाय भी रखी गई थी।

वाराणसी में दो संप्रदायों के बीच हिंसक झड़प के बाद एकत्रित लोग।

आज शाम लगभग 8:30 बजे 300 से अधिक संख्या में एक समुदाय के लोग वहां पहुंचे तथा झोपड़ी व टीनशेड को तोड़ते हुए उसमे आगजनी कर दी। इस हिंसक झड़प में दोनों पक्षों की ओर से जमकर पथराव भी किया गया, जिसमें कई लोग घायल हो गए। घटना के बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। वहीं, दोनों पक्ष आमने-सामने डटे हुए हैं। सिगरा थाने में दोनों पक्षों को बैठा कर समझौते का प्रयास भी चल रहा है।

वाराणसी में दो संप्रदायों के बीच हिंसक झड़प, झोपड़ी में लगाई गई आग।

दर्ज हुआ मुकदमा

देर रात अधिवक्त महेंद्र सिंह मिंटू की तहरीर पर सिगरा थाने में डॉ ख्वाजा, सज्जाद, खुर्शीद, राजू, रिंकू, सरफराज, बबलू, मुख्तार, मुंशी, तौफीक एवं 300 अज्ञात के खिलाफ कई धाराओं में दर्ज किया गया मुकदमा। दूसरा मुकदमा सिगरा थानाध्यक्ष गोपाल जी गुप्ता की ओर से खुर्शीद, मेहताब, इदरीस, बाबू और 150 अज्ञात के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top