बाराबंकी में सिपाहियों ने अपनी जान जोखिम में डाल कर बचाई तीन लोगों की जान 

बाराबंकी में सिपाहियों ने अपनी जान जोखिम में डाल कर बचाई तीन लोगों की जान कोठी थाना पुलिस।

श्रवण चौहान, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

बाराबंकी। कोठी थाना में पिछले वर्ष एक महिला को जलाने का आरोप लगाया गया था और इसके चलते पुलिसिया कार्रवाई पर काफी अंगुली भी उठी थी। लेकिन, आज इसी थाने के कुछ कॉन्स्टेबलों ने अपने फर्ज के लिए जान जोखिम में डालकर वाहन के नीचे फंसे लोगों को काफी मशक्कत से बाहर निकाला।

आपको बता दें कि बीते शनिवार की रात बाराबंकी के कोठी थाना क्षेत्र के असदा मऊ चौराहे पर ट्रक व कंटेनर की टक्कर में एक बाइक चालक व एक अन्य सवार दीपू (15) चपेट में आ गये। घटना में लड़के की मौके पर ही मौत हो गई और 3 घायलों को पुलिस ने बाराबंकी जिला अस्पताल में भर्ती कराया। फिलहाल तीनों की हालत गंभीर बताई जा रही है। ग्रामीण कल्लू रावत का कहना है कि कोठी पुलिस के दो कांस्टेबल अरविंद दीक्षित व शैलेंद्र शर्मा ने कड़ी मशक्कत के बाद वाहन के नीचे फसे तीनों लोगों को बाहर निकाला।

ये भी पढ़ें : बाराबंकी में बारिश ने खोली जिम्मेदारों की पोल

गांव कनेक्शन के रिपोर्टर ने इस संबंध में पुलिस से भी बात की। उनसे पूछा गया कि आपकी मेहनत को देखकर वहां के ग्रामीण खुश हैं आखिर क्यो ? तो पुलिस वालों ने जवाब दिया कि मेहनत करना तो मेरा फर्ज है। फर्ज के लिए जान भी देने के लिए तैयार रहते हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top