सफाईकर्मी के न आने से गाँव में गंदगी का अंबार

सफाईकर्मी के न आने से गाँव में गंदगी का अंबारगांव बहटा में सफाईकर्मी के न होने से गलियों में कुछ इस तरह गंदा पानी भरा रहता है। 

मोहम्मद आमिल, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

एटा। निधौलीकलां विकासखंड की ग्राम पंचायत बरई का गाँव बहटा सफाईकर्मी के न आने से गंदगी की गम्भीर समस्या से जूंझ रहा है। गाँव में सफाईकर्मी गायब है, जिसके कारण गाँव में जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं।

ग्राम पंचायत बरई आबादी के हिसाब से एटा जिले की दूसरी सबसे बडी पंचायत है। इस पंचायत में 15 गाँव है। इनमें एक गाँव बहटा है जिसकी आबादी लगभग ढाई हजार है। गाँव की सबसे बडी समस्या गाँव में फैली गंदगी है, जिसकी वजह से ग्रामीणों का बुरा हाल है।

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार ने दी किसानों को बड़ी राहत, अब सिर्फ 4 फीसदी की दर से मिलेगा कर्ज़

नालियों में सफाई न होने से गलियों में पानी भरा हुआ है। गांव में सफाकर्मी के न आने के कारण गन्दगी का अंबार लगा हुआ है। गाँव के वाशिंदों की माने तो पिछले एक वर्ष से सफाईकर्मी आया तक नहीं है।गाँव के बलवीर सिंह(48वर्ष) ने बताया, ‘‘ग्रामीणों ने आज तक सफाईकर्मी को गाँव में देखा ही नहीं। किसी भी प्रधान के कार्यकाल में कोई भी सफाईकर्मी गांव में आया ही नहीं है।”

ग्रामीण अभिलाख सिंह(37वर्ष) का कहना है,‘‘ सफाईकर्मी की यदि तैनाती होगी तो केवल कागजों पर, क्योंकि गाँव में तो हमने आज तक कोई सफाईकर्मी देखा ही नहीं है।”इसी गाँव के मलिखान सिंह(42वर्ष) कहते हैं, ‘‘ सफाईकर्मी के न आने से गाँव में गंदगी रहती है। लोग अपने-अपने घरों के सामने तो सफाई कर लेते है, लेकिन नालियों में सफाई न होने से गंदा पानी गलियों में भर जाता है।”

ये भी पढ़ें- दिनभर लाइन में लगने के बाद महिलाओं को मिल पाता है पानी

प्रधान विनेश यादव बताते है, “गांव में अभी किसी भी सफाईकर्मी की तैनाती नहीं है। पूर्व में जो भी सफाईकर्मी था वो अब हमारे कार्यकाल में नहीं है। डीपीआरओ से गाँव में सफाईकर्मी की तैनाती के बारे में कहा है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top