वाराणसी में बारिश में बजबजा रहा सब्जी मंडी परिसर 

Vinod SharmaVinod Sharma   9 July 2017 3:29 PM GMT

वाराणसी में बारिश में बजबजा रहा सब्जी मंडी परिसर सब्जीमंडी में कीचड़ और जगह-जगह फैला कूड़ा-कचरा।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

वाराणसी। पूर्वांचल की सबसे बड़ी फल एवं सब्जी मंडी में 1 जुलाई से सफाई व्यवस्था पूरी तरह से ठप पड़ी है। पूरे परिसर में जलभराव, कीचड़ और दुर्गंन्ध है। बीते एक हफ्ते से व्यापारियों के साथ-साथ किसान और खरीदारों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

करीब 52 एकड़ में फैली फल एवं सब्जी मंडी की सफाई व्यवस्था निजी ठेकेदार द्वारा कराई जाती थी, लेकिन 30 जून को एग्रीमेंट खत्म हो गया। 1 जुलाई से परिसर की साफ-सफाई नगर निगम को कराना था। शासनादेश के बावजूद सफाई कार्य शुरू नहीं हुआ।

ये भी पढ़ें- मध्यप्रदेश: बैल नहीं खरीद सका किसान तो बेटियों से हल खिंचवाकर जोतने लगा खेत

फल व्यापारी बृजेश सोनकर (40वर्ष) कहते हैं, “मंडी की हालत बहुत ही खराब है। सफाई और कूड़ा निस्तारण के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति हुई है। 52 एकड़ में फैला यह परिसर पूरी तरह से कीचड़ से पटा है, जिसके कारण यहां आने का मन भी नहीं करता, लेकिन रोजी-रोटी के लिए आना पड़ता है।”

मंडी सचिव पार्थ सारथी कहते हैं, “नगर आयुक्त के तबादले के चलते 1 जुलाई से मंडी की सफाई शुरू नहीं हो पाई है। नए नगर आयुक्त चार्ज लेने के बाद दिल्ली चले गए थे, जिससे व्यवधान आया है।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top