बढ़ती जनसंख्या के कारण समाज में असंतुलन : योगी आदित्यनाथ

आम लोगों को बेहतर शिक्षा, चिकित्सा, शुद्ध पेयजल, स्वच्छ वातावरण, अच्छी सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं मिल सके इसके लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है।

बढ़ती जनसंख्या के कारण समाज में असंतुलन : योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा," जनसंख्या का स्थिरीकरण करके ही समाज की बुनियादी आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकता है। वर्तमान में जनसंख्या की बेतहाशा वृद्धि एक ज्वलंत समस्या है।" सीएम ने ये बातें अपने सरकारी आवास पर विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर 'जागरूकता रैली' को झण्डी दिखाकर रवाना करने के अवसर पर व्यक्त की। उन्होंने जनसंख्या स्थिरता पखवारा का शुभारम्भ भी किया।

विश्व जनसंख्या दिवस : विकास में बाधक है तेजी से बढ़ती जनसंख्या



सीएम योगी ने कहा, जनसंख्या वृद्धि जैसे महत्वपूर्ण विषय पर जनसामान्य को जागरूक किया जाना आवश्यक है। बढ़ती जनसंख्या के कारण ही समाज में एक असंतुलन आ गया है। इस असंतुलन को समाप्त करने के लिए समाज के सभी वर्गों की सहभागिता जरूरी है। आम लोगों को बेहतर शिक्षा, चिकित्सा, शुद्ध पेयजल, स्वच्छ वातावरण, अच्छी सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं मिल सके इसके लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है। कुपोषण मुक्त समाज की स्थापना के लिए आवश्यक है कि जागरूकता कार्यक्रम को जन-जन तक पहुंचाने के लिए गोष्ठियों का आयोजन किया जाए। कार्यक्रम के अन्त में मुख्यमंत्री ने हस्ताक्षर अभियान की भी शुरूआत की, जिस पर लोगों ने हस्ताक्षर कर प्रदेशवासियों को स्वस्थ एवं खुशहाल जीवन उपलब्ध कराने के लिए संकल्प लिया।

जनसंख्या दिवस विशेष: विलुप्त होने की कगार पर हैं कई आदिम जनजातियां

विकास में बाधक है तेजी से बढ़ती जनसंख्या


Share it
Share it
Share it
Top