उत्तर प्रदेश बजट 2018 में अल्पसंख्यकों से जुड़ी योजनाओं पर दिल खोलकर खर्च करने की व्यवस्था

उत्तर प्रदेश बजट 2018 में अल्पसंख्यकों से जुड़ी योजनाओं पर दिल खोलकर खर्च करने की व्यवस्थामदरसा 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आज पेश बजट में अल्पसंख्यकों से जुड़ी योजनाओं पर दिल खोलकर खर्च की व्यवस्था की है।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल द्वारा विधानसभा में पेश बजट में अल्पसंख्यकों के विकास एवं कल्याण की योजनाओं के लिए 2757 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है। इसके अलावा अरबी-फारसी मदरसों के आधुनिकीकरण की योजना के लिये 404 करोड़ रुपए का बजट प्रस्तावित किया गया है।

बजट में अरबिया मकतबों (मदरसों) को अनुदान देने के लिए लगभग 486 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गयी है। साथ ही स्थायी मान्यता प्राप्त आलिया स्तर के 246 अरबी-फारसी मदरसों को अनुदान देने के लिए 215 करोड़ रुपए का प्रावधान प्रस्तावित किया गया है।

ये भी पढ़ें- ऐसे जाने, ग्राम पंचायत को कितना मिला पैसा, और कहां किया गया खर्च

ये भी पढ़ें- यह बजट उत्तर प्रदेश के संपूर्ण विकास के लिए: योगी आदित्यनाथ

इसके अलावा, सरकार ने पॉवरलूम बुनकरों को रियायती दरों पर बिजली देने के लिये 150 करोड़ रुपए की व्यवस्था भी बजट में की है।

ये भी पढ़ें- जानिए किसको क्या-क्या मिला योगी के दूसरे बजट में

ये भी पढ़ें- खुशखबरी : रेलवे ने 90 हजार पदों के लिए मांगे आवेदन, अंतिम तिथि 12 मार्च  

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top