‘सरकारी नौकरियां कम, इसलिए दे रहे युवाओं को प्रशिक्षण’

‘सरकारी नौकरियां कम, इसलिए दे रहे युवाओं को प्रशिक्षण’सराहनीय कार्य करने वालों को किया गया सम्मानित। 

कन्नौज। ग्राम स्वराज अभियान के समापन पर पहुंचे उत्तर प्रदेश सरकार के बेसिक, माध्यमिक, उच्च, प्राविधिक और चिकित्सा एवं शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह ने कहा, ‘‘सरकारी नौकरियों की कम उपलब्धता के कारण ही युवाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराने का काम किया है। स्वरोजगार मिलने के साथ ही युवा और लोगों को रोजगार दें।’’

ये भी पढ़ें- राष्ट्रीय आजीविका एवं कौशल विकास मेले में महिलाओं ने सुनाई सफलता की कहानियां

सूबे में पांच मई को आजीविका एवं कौशल विकास दिवस मना। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि/जिले के प्रभारी राज्यमंत्री संदीप सिंह ने कहा, ‘‘पूरे प्रदेश में विभिन्न ट्रेडों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 18 से 35 वर्ष तक के युवाओं को लाभ मिल रहा है। रोजगार के लिए युवा भटकते हैं, इसलिए कंपनियां आई हैं। प्रदर्शनी भी लगी है। प्लेसमेंट भी मिला है। रोजगार मुहैया कराया गया है।’’

आजीविका एवं कौशल विकास दिवस के समापन पर पहुंचे लोग।

समूह से सुधर रही महिलाओं की स्थिति

मुख्य अतिथि ने कहा, स्वयं सहायता समूह की अत्यन्त आवश्यकता है। ग्रामीण और शहरी महिलाओं को रोजगार मिला है। आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है। प्रधानमंत्री विशेष ध्यान दे रहे हैं। अच्छे समूह से लाभ मिल रहा है। कार्यक्रम को डीएम रवीन्द्र कुमार, सीडीओ अवधेष बहादुर सिंह, विधायक तिर्वा कैलाश राजपूत, ब्लाॅक प्रमुख उमर्दा अजय वर्मा, जिलाध्यक्ष नरेंद्र राजपूत आदि मौजूद रहे।

‘किताबें कब आएंगी, पता नहीं’

राज्यमंत्री संदीप सिंह ने ‘गांव कनेक्शन’ संवाददाता के सवाल पर कहा, ‘‘परिषदीय स्कूलों में पुस्तकें कब पहुंचेंगी उनको जानकारी नहीं है। अंग्रेजी स्कूलों में पुस्तकें जल्द पहुंचेंगी। शिक्षक भी भेज दिए जाएंगे।’’

जल्द ही फर्नीचर पर बैठकर पढ़ेंगे परिषदीय स्कूलों के बच्चे

परिषदीय स्कूलों में जल्द ही बच्चे फर्नीचर पर बैठकर पढेंगे। नए बजट में व्यवस्था है। शिक्षा को लेकर सरकार चिंतित है, काफी सुधार भी हुआ है। दिन-प्रतिदिन शिक्षा का स्तर अच्छा हो रहा है। परीक्षाएं भी बेहतर हुई हैं।’’

पुष्टाहार न आने की जांच कराऊंगा

कई महीनों से आंगनवाड़ी केंद्रों पर पुष्टाहार न आने और बिना इसके कुपोषण दूर करने के सवाल पर राज्यमंत्री ने कहा, ‘‘इसकी जांच कराता हूं। प्रदेश में अगर टेंडरिंग की वजह से देरी हो रही है तो जल्द ही प्रक्रिया पूरी कराई जाएगी।’’

ये भी पढ़ें- भारतीय ग्रामीण विद्यालय : गांव के होनहारों का बोर्ड परीक्षा में शानदार प्रदर्शन

ये भी पढ़ें- रेलवे सुरक्षा बल में हो रही हैं भर्तियां, दसवीं पास भी कर सकते हैं आवेदन 

Share it
Top