बागपत में दाढ़ी कटवाने का मामला निकला झूठा, टीचर ने सिर्फ बाल काटने को कहा था 

बागपत में दाढ़ी कटवाने का मामला निकला  झूठा, टीचर ने सिर्फ बाल काटने को कहा था पीड़ित छात्र और पुलिस को सौंपा गया शिकायत पत्र।

बागपत। पश्चिमी यूपी में एक छात्र ने अपने स्कूल के शिक्षक पर गंभीर आरोप लगाया है। 11वीं के छात्र का आरोप है कि दाढ़ी रखने पर उसकी न सिर्फ पिटाई की गई बल्कि उसे ये कहकर भगा दिया गया और कहा गया कि दाढ़ी कटवाकर ही स्कूल में दिखाई देना। पीड़ित में स्थानीय पुलिस से मामले की शिकायत की है। इस मामले में बात करने पर थाना प्रभारी खेकड़ा देविंद बिष्ट ने कहा, "शिकायत की जांच की जा रही है, और आरोप सही पाए जाने पर कार्रवाई होगी।

लखनऊ से करीब 600 किलोमीटर दूर पश्चिमी यूपी के बागपत के रटोल गांव निवासी सद्दाम ने अपने स्कूल पर जातिशूचक शब्दों का इस्तेमाल करने और उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। मामले की ख़बर जब लोगों को हुई तो उन्होंने जमकर हंगामा काटा और आरोपी शिक्षक के खिलाफ तहरीर दी है। सद्दाम के पिता लियाकत ने बताया कि मेरा बेटा सेंट मैरी इंटर कॉलेज में 11वी में पढ़ता है। वहीं के एक टीचर ने बदसलूकी की।

यह भी पढ़ें : एक क्लिक में जानें-क्या है पनामा लीक्स से जुड़ा पूरा मामला, और कैसे फंसे पीएम नवाज शरीफ

अपनी शिकायत में सद्दाम ने कहा कि रसायन विज्ञान पढ़ाने वाले शिक्षक ने उससे दाढ़ी रखने पर पहले मारा पीटा फिर जब वो दाढ़ी कटवाकर पहुंता तो भी क्लास में बैठने नहीं दिया और जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल किया। मामले की ख़बर मिलने पर सैकड़ों लोग स्कूल पहुंचे और जमकर भड़ास निकाली। पीड़ित परिवार ने पुलिस को लिखित में शिकायत दी है।

लेकिन जब इस मामले में थाना प्रभारी खेकड़ा देविंद बिष्ट ने छानबीन की तो ये मामला झूठा निकला। छात्र के आरोंपों की जांच में पुलिस ने पाया कि स्कूल टीचर ने दाढ़ी कटवाने को नहीं बल्कि छात्र से बाल काटने को कहा था।

दाढ़ी को लेकर शिक्षक रोज परेशान करते थे, और जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते थे। मैंने दाढ़ी कटवा ली है और परिजनों को भी बताया। पुलिस में भी शिकायत कराई है।
सद्दाम, पीड़ित छात्र

Share it
Top