कानपुर में हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी गिरफ्तार, गणेश चतुर्थी के मौके पर हमले की थी योजना

डीजीपी ने बताया, यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि यह आतंकवादी कश्मीर से कब कानपुर आकर छिपा था। उसके और कौन-कौन से साथी हैं। इसके अलावा उसके निशाने पर और कौन-कौन स्थान अथवा लोग थे।

कानपुर में हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी गिरफ्तार, गणेश चतुर्थी के मौके पर हमले की थी योजना

कानपुर। उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने हिजबुल मुजाहिदीन के एक आतंकवादी को आज कानपुर में गिरफ्तार कर लिया। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि एटीएस और कानपुर नगर पुलिस ने चकेरी थाना क्षेत्र में असम निवासी कमर-उज-जमां नामक हिजबुल आतंकवादी को गिरफ्तार किया है। यह आतंकवादी गणेश चतुर्थी पर हमले को अंजाम देना चाहता था। आतंकी से पूछताछ में उसने बताया कि वह अप्रैल 2017 में ट्रेनिंग के लिए कश्मीर गया था।

पाकिस्तान कौन चलाएगा: इमरान, आतंकी या सेना?


डीजीपी ने बताया कि जम्‍मू-कश्‍मीर में सक्रिय इस आतंकवादी संगठन के आतंकी का नाम कमर-उज-जमा है। वह मूल रूप से असम के नौगांव का रहने वाला है। उन्‍होंने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि हिज्‍बुल ने उसे इस क्षेत्र में आतंकवादी वारदात की तैयारी की जिम्‍मेदारी सौंपी थी। ओपी सिंह ने बताया कि कमर-उज-जमा के मोबाइल से एक विडियो मिला है जिससे पता चलता है कि उसने कानपुर में एक मंदिर की रेकी की थी और वहां हमले के फिराक में था।

डीजीपी ने बताया, यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि यह आतंकवादी कश्मीर से कब कानपुर आकर छिपा था। उसके और कौन-कौन से साथी हैं। इसके अलावा उसके निशाने पर और कौन-कौन स्थान अथवा लोग थे। सिंह ने बताया कि आतंकवादी के पास से अभी सिर्फ उसका मोबाइल फोन मिला है जिसकी कॉल डिटेल खंगाली जा रही है।

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन का बड़ा बयान - कुछ मदरसे आतंकी भी पैदा करते हैं


Share it
Share it
Share it
Top