किसानों के कर्ज़ माफी की तैयारी चल रही: कृषि मंत्री

किसानों के कर्ज़ माफी की तैयारी चल रही: कृषि मंत्रीकिसानों को जल्द मिल सकती है कर्जमाफी की खुशख़बरी।

लखनऊ। चुनाव के दौरान किसानों के साथ किया अपना वादा पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश की नई सरकार ने काम करना शुरू कर दिया। प्रदेश के किसानों का कर्जमाफ करने के साथ ही उन्हें मजबूत बनाने के लिए उत्तर प्रदेश की आदित्यनाथ योगी सरकार ने काम करना शुरू कर दिया है।

उत्तर प्रदेश के कृषिमंत्री सूर्य प्रताप शाही गुरुवार को अपना पदभार संभालने के बाद एक्शन में दिखे। अपने कार्यालय में पहले दिन उन्होंने अधिकारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाने के साथ ही प्रदेश की कृषि और किसानों को लेकर बीजेपी सरकार के एजेंडे को सामने रखा।

भारी सब्सिडी के बावजूद किसान नहीं कर रहे बूंद-बूंद सिंचाई योजना के लिए आवेदन

बीजेपी चुनाव में जारी किए गए अपने संकल्प पत्र में किसानों के लिए जो वादे किए थे उसे पूरा करने के लिए काम कर रही है। सरकार का लक्ष्य इस बार कृषि क्षेत्र का कायाकल्प करना है।
सूर्य प्रताप शाही, कृषि मंत्री

उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार प्रदेश के किसानों को आने वाले दिनों में इतना आत्मनिर्भर करना चाहती है कि उन्हें कर्ज लेने की जरूरत ही न पड़े और अगर पड़े भी तो किसान आर्थिक रूप से इतने मजबूत हों कि वह समय से बैंक को भुगतान कर सकें।

एक किसान परिवार से आने वाले सूर्य प्रताप शाही ने गाँव कनेक्शन से बातचीत में कहा कि बीजेपी चुनाव में जारी किए गए अपने संकल्प पत्र में किसानों के लिए जो वादे किए थे उसे पूरा करने के लिए काम कर रही है। किसानों के लिए नीतियां बनाने से लेकर कार्यक्रम लागू करने में किसानों की सलाह भी ली जाएगी। सरकार का लक्ष्य इस बार कृषि क्षेत्र का कायाकल्प करना है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह और उनका मंत्रालय भी प्रदेश की कृषि और यहां के किसानों के विकास के लिए काम कर रहा है। आने वाले दिनों में केन्द्र और राज्य का कृषि विभाग मिलकर प्रदेश में किसान और खेती-किसानी में क्रांतिकारी बदलाव लाएगा।

वर्तमान कृषि मंत्री और बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शाही भी किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही बीजेपी के वरिष्ठ नेता है जिन्हें कृषि विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। देवरिया जिले के पकहा गाँव के रहने वाले शाही बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। साल 1985 में पहली बार विधायक बने शाही 1987 से लेकर 1990 तक प्रदेश में मंत्री भी रह चुके हैं। कल्याण सिंह की सरकार में गृह राज्यमंत्री और परिवार कल्याण चिकित्सा शिक्षा मंत्री की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं। लेकिन साल 2002 से वह लगातार तीन बार विधानसभा का चुनाव अपनी परंपरागत सीट पत्थरदेवा से हार रहे थे। इस बार उन्होंने सपा सरकार में मंत्री रहे शाकिर अली का चुनाव हराकर विधायक बने हैं। खेती किसानी को करीब से जानने वाले सूर्य प्रताप शाही से प्रदेश के किसानों को भी बहुत उम्मीद है।

खेती किसानी से जुड़ी गांव कनेक्शन की ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Share it
Top