बिना आधार कार्ड नहीं हो पाएंगे आपके ये पांच कार्य

बिना आधार कार्ड नहीं हो पाएंगे आपके ये पांच कार्यआधार कार्ड। प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली। आधार कार्ड की अनिवार्यता दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। कई जरूरी कामों के लिए आधार नंबर जरूरी हो गया है। आने वाले दिनों में बिना आधार कार्ड के बिना और भी बहुत से काम हैं जो नहीं हो सकेंगे। ऐसे में यदि आपने अभी तक कार्ड नहीं बनवाया है या फिर किसी प्रकार के अपडेशन की जरूरत है तो आप यह जल्द से जल्द कर लें। आइए जानते हैं पांच जरूरी काम जिन्हें आप आधार नंबर के बिना अंजाम नहीं दे सकते...

पैन कार्ड (PAN) बनवाते समय

अगर आपके पास पहले से ही पैन है तो उससे आधार नंबर लिंक होना जरूरी है और यदि आपने पैन अभी नहीं बनवाया है तो बता दें कि जब भी आप यह बनवाएंगे आपसे आधार नंबर पूछा जाएगा। आपका आवेदन आधार नंबर के बिना पूरा नहीं होगा।

ये भी पढ़ें:- यूपी सरकार किसानों को कर रही सावधान, खेती को राहु-केतु करते हैं परेशान

बैंक खाता खोलने और मौजूदा खाते को जारी रखने के लिए आधार जरूरी

अब किसी भी बैंक में अकाउंट खोलने के लिए आधार नंबर देना जरूरी है और जिन बैंकों में आपके पास पहले से ही खाता है वहां आधार नंबर जोड़ा जाना जरूरी है। इसके अलावा यह 50 हजार रुपये से अधिक के ट्रांजैक्शन के लिए भी जरूरी है।

ये भी पढ़ें:- ATS के आईजी असीम अरुण से खास बात : यूपी आंतकियों से निपटने के लिए बनेगी स्टेट एनएसजी

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने किया अनिवार्य

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने आपके पीएफ खातों के लिए आधार संख्या अनिवार्य कर दी है। आगे की सुविधाएं ले सकें, इसके लिए जरूरी है कि जल्द से जल्द नियोक्ता के मार्फत अपना आधार ईपीएफओ में अपडेट कर दें।

ये भी पढ़ें:- किसानों की तकदीर बदलेगी नई नीली क्रांति

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आधार जरूरी

हाल ही में यानी पांच अगस्त को आईटीआर फाइलिंग की लास्ट डेट खत्म हुई है। सरकार ने अनिवार्य कर दिया है कि रिटर्न फाइलिंग के लिए आधार नंबर जुड़ा होना चाहिए। आयकर विभाग, 1 जुलाई तक के आंकड़ों के मुताबिक, 2.62 आधार नंबरों को पैन के डाटाबेस के साथ जोड़ चुका है। फिलहाल 25 करोड़ से अधिक पैन कार्ड आवंटित किए गए हैं, जबकि आधार कार्ड संख्या करीब 115 करोड़ लोगों को आवंटित की जा चुकी हैं।

ये भी पढ़ें:- अशोक वाटिका घूमने गए मोहम्मद शमी, ‘सीता’ लिखने पर हुए सोशल मीडिया पर ट्रोल

डेथ सर्टिफिकेट बनवाने के लिए आधार

गृह मंत्रालय की तरफ से 4 अगस्त को जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि डेथ सर्टिफिकेट के लिए आधार नंबर दर्ज करना होगा, तभी डेथ सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा। गृह मंत्रालय का यह नया फरमान एक अक्टूबर से पूरे देश में लागू होगा। जम्मू-कश्मीर, असम और मेघालय को इससे फिलहाल दूर रखा गया है।

ये भी पढ़ें:- सोशल मीडिया में बार-बार फ्रेंड रिक्वेस्ट और मैसेज भेजना साइबर क्राइम, ये हो सकती है सज़ा

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top