क्या आप जानते हैं स्टेशनों के नाम के अंत में क्यों लिखा होता है जंक्शन, टर्मिनल और सेन्ट्रल ?  

क्या आप जानते हैं स्टेशनों के नाम के अंत में क्यों लिखा होता है जंक्शन, टर्मिनल और सेन्ट्रल ?  साभार: इंटरनेट

सबसे पहले आपको बता दें अगर किसी रेलवे स्टेशन के नाम के अंत में टर्मिनल लिखा हो तो उसका मतलब ये है कि आगे रेलवे ट्रैक नहीं है। यानि ट्रेन जिस दिशा से आई है वापस उसी दिशा में जाएगी। बता दें टर्मिनस को टर्मिनल भी कहा जाता है।

इसका मतलब ऐसे स्टेशन से है जहां से ट्रेन आगे नहीं जाती बल्कि वापस उसी दिशा में लौट जाती है जहां से वह वापस आई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश में फिलहाल ऐसे 27 रेलवे स्टेशन हैं जिन पर टर्मिनल लिखा हुआ है। छत्रपति शिवाजी टर्मिनल और लोकमान्य तिलक टर्मिनल देश के सबसे बड़े टर्मिनल स्टेशन हैं।

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल: गार्ड की जगह लेगा ये उपकरण, रखेगा पूरी ट्रेन पर नजर

चलिए अब आपको बताते हैं कि रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल क्यों लिखा होता है?

आपको बता दें कि रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल लिखे होने का मतलब है कि स्टेशन से चारों दिशाओं के लिये ट्रेन आती और जाती हैं। जिस रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल लिखा हो वह उस शहर का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन होता है।

रेलवे स्टेशन के अंत में सेंट्रल लिखे होने का दूसरा मतलब ये भी है कि यह उस शहर का सबसे अधिक व्यस्त रहने वाला रेलवे स्टेशन है। जानकारी के लिए बता दें कि फिलहाल भारत में मुंबई सेंट्रल, चेन्नई सेंट्रल, त्रिवेंद्रम सेंट्रल, बैंगलोर सेंट्रल, कानपुर सेंट्रल प्रमुख सेंट्रल स्टेशन हैं।

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल: मानव रहित क्रासिंग पर अब ‘इसरो’ रखेगा नजर

अब आपको बताते हैं कि रेलवे स्टेशन के अंत में जंक्शन क्यों लिखा होता है?

किसी स्टेशन के नाम के अंत में जंक्शन लिखे होने का मतलब कि उस स्टेशन पर ट्रेन के आने जाने के लिए 3 से अधिक रास्ते हैं। यानि एक रास्ते से ट्रेन आ सकती है और दो अन्य रास्तों से ट्रेन स्टेशन से जा सकता है। इसलिए ऐसे स्टेशन के नाम के अंत में जंक्शन लिखा होता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top