औरैया में मिलेगा लखनवी व इलाहाबादी अमरूद का स्वाद

औरैया में मिलेगा लखनवी व इलाहाबादी अमरूद का स्वादजिले में पिछले साल की अपेक्षा इस साल अमरूद की अच्छी फसल।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। जिले में पिछले साल की अपेक्षा इस साल अमरूद की अच्छी फसल देख बागवानी करने वाले किसानों के चेहरों पर खुशी की लहर दिखाई दे रही है। इस बार जिले के लोगों को लखनऊ-49 और इलाहाबादी सफेदा अमरूद का स्वाद चखने को मिलेगा।

यह भी पढ़ें-- मोती उत्पादन में विश्व का नंबर वन देश बन सकता है भारत

बागवानी को लेकर जिले में किसानों की रूचि अब खासी दिखाई दे रही है। यही कारण है कि उद्यान विभाग में आने वाला लक्ष्य सामान्यता पूरा हो जाता है। जिले में पिछले साल अमरूद की फसल में अधिक नुकसान हुआ था। जिससे किसानों को काफी हद तक निराशा हाथ लगी हुई थी। उद्यान विभाग ने बागवानी के किसानों की समस्या को देखते हुए जिले में लखनऊ-49 और इलाहाबादी सफेदा अमरूद लगवाया है। लगवाए गए अमरूद की देखरेख उद्यान विभाग ने स्वयं की है।

उद्यान विभाग के अधिकारी अमरूद की अच्छी पैदावार के लिए समय-समय पर बाग।

उद्यान विभाग के अधिकारी अमरूद की अच्छी पैदावार के लिए समय-समय पर बागों में जाते रहे है। जिससे इस बार फसल की अच्छी पैदावार की संभावना है। इलाहाबाद का मशहूर अमरूद बाजार में आने पर लोग उसकी अधिक खरीददारी करते है। लोगों की इस चाहत को पूरा करने के लिए जिले में विभाग न इलाहाबाद अमरूद का पौधारोपण कराया। जिसमें अब फल और फूल आने शुरू हो गए है। जिले के लोगों को इस बार लखनवी और इलाहाबादी अमरूद का स्वाद दूसरे के जिले की मिटटी से पैदा अमरूद का नहीं बल्कि जिले की मिटटी से पैदा हुए अमरूद का स्वाद चखने को मिलेगा।

जिला उद्यान अधिकारी राजेंद्र कुमार ने बताया, “पिछले साल की अपेक्षा इस साल अमरूद की फसल अच्छी हुई है जिले में लखनऊ-49 और इलाहाबादी अमरूद लगवाया था। जिसकी इस बार अच्छी फसल दिखाई दे रही है।”

यह भी पढ़ें-- किसान अमरुद की शीतकालीन फसल से कमाएं मुनाफा

जिला कृषि अधिकारी आवेश कुमार कहते हैं, “बागवानी को लेकर जिले में काफी प्रयास किए जा रहे है। वर्ष 2016-17 में अमरूद की बागवानी का 31 हेक्टयर का लक्ष्य आया था जिसे पूरा करा दिया गया है। जिले में अमरूद की इस बार अच्छी पैदावार की संभावना है।”

First Published: 2017-08-28 18:30:42.0

Share it
Share it
Share it
Top