Top

ऐसे करें मटर की फसल का तुलीसिता रोग से बचाव

ऐसे करें मटर की फसल का तुलीसिता रोग से बचावमटर की फसल।

तुलीसिता रोग के कारण मटर की पत्तियों पर गाढ़े पीले रंग के धब्बे पड़ जाते हैं, जब रोग ज़्यादा दिन तक फसल पर टिका रहता है तो पत्तियों के नीचे सफेद फफूंद लगना शुरू हो जाती है।

मटर की फसल को इस रोग से मुक्त करने के लिए 02 किलोग्राम नीम की पत्ती को पीसकर 10 लीटर गौमूत्र में मिलाएं और इसे 10 से 12 दिनो तक रखें। इसके बाद इस घोल को छान लें और फसल पर छिड़काव करे। इससे रोग का फैलना बंद हो जाएगा।

ओपिनियन पीस: डॉ. आरके पांडेय, कृषि वैज्ञािनक, कृषि विज्ञान केंद्र (बहराइच)

मटर की फसल

ये भी पढ़ें- मटर व शिमला मिर्च की सहफसली खेती से कमा रहे मुनाफा 

ये भी पढ़ें- गिरता पारा घटा देगा आलू और मटर का उत्पादन, किसान ऐसे करें बचाव

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.