Top

हार्दिक पटेल का दांव, गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल अगर नाराज हैं तो अन्य 10 विधायकों संग कांग्रेस में शामिल हो जाएं 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   30 Dec 2017 7:06 PM GMT

हार्दिक पटेल का दांव, गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल अगर नाराज हैं तो अन्य 10 विधायकों संग कांग्रेस में शामिल हो जाएं हार्दिक पटेल।

गांधीनगर (आईएएनएस)। पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि गुजरात सरकार में महत्वपूर्ण विभाग न दिए जाने से नाराज उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल को चाहिए कि वे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) छोड़कर कांग्रेस पार्टी में शामिल हो जाएं।

हार्दिक पटेल ने अहमदाबाद में कहा, "अगर वह (नितिन पटेल) और अन्य 10 विधायक पार्टी छोड़ कांग्रेस में शामिल होते हैं तो मैं और मेरे समर्थक पार्टी में नितिन पटेल का स्वागत करने के लिए कांग्रेस नेतृत्व से बातचीत करने के लिए तैयार हैं।"

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश : 2018 में शिवराज की राह में किसानों की नाराजगी बन सकती है रोड़ा ?

उन्होंने कहा, "अगर भाजपा वर्षों तक पार्टी के निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले नितिन पटेल जैसे वरिष्ठ नेता का ध्यान नहीं रख सकती, तो नितिन पटेल को पार्टी से इस्तीफा दे देना चाहिए।"

गुजरात के नाखुश उपमुख्यमंत्री ने अभी विभागों का कामकाज नहीं संभाला। भाजपा के एक सूत्र ने बताया कि उन्होंने खुद को आवंटित विभागों को लेकर अपनी नाराजगी के बारे में पार्टी नेतृत्व को अवगत करा दिया है।

ये भी पढ़ें- हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा की

उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस नेतृत्व से नितिन भाई को पार्टी में वरिष्ठ स्थान देने को कहेंगे और उन्हें कम से कम 10 विधायकों के साथ कांग्रेस में शामिल होना चाहिए। हार्दिक ने भाजपा के पटेल नेताओं से उपमुख्यमंत्री को समर्थन देने के लिए कहा।

पटेल ने कहा, "अगर भाजपा पटेलों का आदर नहीं करती है तो उन्हें पार्टी छोड़ देनी चाहिए और नितिन पटेल का साथ देना चाहिए।"

ये भी पढ़ें- BJP ने गुजरात में पूरी की सेंचुरी, विधायक रतन सिंह राठौड़ ने दिया समर्थन

उपमुख्यमंत्री पटेल महत्वपूर्ण वित्त, शहरी विकास और पेट्रोरसायन विभाग छीने जाने से पार्टी से नाराज चल रहे हैं। वित्त एवं पेट्रोरसायन विभाग सौरभ पटेल को दिया गया है, जिन्हें विजय रूपानी की पिछली सरकार में जगह नहीं दिया गया था। रूपानी ने शहरी विकास विभाग अपने पास रखा है।

इससे क्षुब्ध, नितिन पटेल शुक्रवार को गांधीनगर में सचिवालय नहीं गए, जबकि उनके साथ मंत्रिमंडल के सभी नए साथियों ने अपना कार्यभार संभाल लिया। यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि वह पार्टी से भी इस्तीफा दे सकते हैं। उन्होंने अभी तक सरकारी वाहन और सुरक्षा भी नहीं ली है।

गुजरात में मंत्रियों को आवंटित विभाग

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी :- सामान्य प्रशासन, गृह, योजना, बंदरगाह एवं खदान, शहरी विकास, पेट्रोलियम, जलवायु परिवर्तन, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और सूचना एवं प्रसारण

उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल :- सड़क एवं निर्माण, स्वास्थ्य, मेडिकल शिक्षा, नर्मदा, कल्पसार एवं कैपिटल परियोजना

सौरभ पटेल :- वित्त विभाग, ऊर्जा विभाग

भूपेंद्र सिंह चूडास्मा :- शिक्षा, विधि एवं न्याय और संसदीय एवं विधायी मामले

आर सी फालदू :- कृषि मत्स्य-पालन, पशुपालन एवं परिवहन विभाग

कौशिक पटेल:- राजस्व विभाग

गणपत वसावा :- आदिवासी विकास, वन एवं पर्यटन

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.