26 जनवरी के दिन लाल किले पर हंगामा करने वाले दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया

दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू को पंजाब के ज़ीरकपुर से गिरफ्तार किया है, जहां पर वह हरियाणा होते हुए पहुंचे थे।

26 जनवरी के दिन लाल किले पर हंगामा करने वाले दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया

गणतंत्र दिवस के दिन किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर चढ़कर धार्मिक झंडा फहराकर हंगमा, तोड़-फोड़ और हिंसा करने के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि इसके लिए दिल्ली पुलिस को 15 दिन का समय लग गया। दीप को चंडीगढ़ के नज़दीक, पंजाब के ज़ीरकपुर से गिरफ्तार किया गया।

दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू की सूचना देने पर एक लाख रूपये का इनाम भी घोषित किया हुआ था। दिल्ली में हुई हिंसा के बाद दीप सिद्धू हरियाणा होते हुए पंजाब पहुंचा था। इस दौरान उसने अपना मोबाइल बंद कर रखा था, लेकिन विदेश में बैठे कुछ मित्रों के ज़रिये वह अपना वीडियो संदेश इंटरनेट पर डालता रहता था।

दीप सिद्धू ने हाल ही में एक वीडियो डालकर कहा था कि उसने 26 जनवरी के दिन कोई गलत काम नहीं किया था और ना ही कोई कानून तोड़ा था, इसलिए उसे डरने की जरूरत नहीं है। दीप सिद्धू ने उस वायरल वीडियो में कहा, "मैं अपने केस से जुड़े सभी सबूत जुटा रहा हूं ताकि मैं अपने आप को निर्दोष साबित कर सकूं। उसके बाद मैं खुद ही पुलिस के सामने सरेंडर कर दूंगा। मेरी पुलिस से गुजारिश है कि वह तब तक मेरे परिवार वालों को परेशान ना करे।"

दिल्ली पुलिस का कहना है कि दीप सिद्धू एक शातिर अपराधी की तरह काम कर रहा था। वह लगातार यात्रा कर रहा था ताकि उसकी लोकेशन का पता नहीं लगाया जा सके। उसने अपना सिम कार्ड बंद कर दिया था लेकिन इंटरनेट के ज़रिये वीडियो अपने मित्रों को भेजकर लगातार वायरल करा रहा था, ताकि उसके प्रति लोगों की सहानुभूति बनी रहे।

उधर, 26 जनवरी की घटना के बाद संयुक्त किसान मोर्चा और सभी किसान संगठनों ने दीप सिद्धू की कड़ी आलोचना की थी और कहा था कि ऐसे लोग किसान आंदोलन को बदनाम कर उसे तोड़ना चाहते हैं। लाल किले की घटना के बाद दीप सिद्धू की बीजेपी सांसद और अभिनेता सनी देओल के साथ भी तस्वीरें वायरल हुई थीं, लेकिन सनी देओल ने भी ट्वीट कर सफाई दी थी कि उनका दीप के साथ कोई संबंध नहीं है और ऐसा वह दिसंबर में भी साफ कर चुके हैं, जब दीप सक्रिय रूप से किसान आंदोलन में भाग ले रहे थे।

दीप सिद्धू पर खलिस्तानी और अलगाववादी होने के भी आरोप लग चुके हैं। उनकी गिरफ्तारी के संबंध में अभी विस्तृत ब्यौरे का इंतजार है। माना जा रहा है कि दिल्ली पुलिस अब से कुछ देर के बाद प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर इस संबंध में जानकारी देगी।

अपडेटिंग...

ये भी पढ़ें- 26 जनवरी हिंसा: दीप सिद्धू समेत इन 8 लोगों की सूचना देने पर दिल्ली पुलिस ने इनाम रखा

संयुक्त किसान मोर्चा का ऐलान: एक फरवरी का संसद कूच स्थगित, 30 जनवरी को गांधी पुण्यतिथि के अवसर पर एक दिन का उपवास


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.