इन घरेलू नुस्खों से आप खुद को सर्दियों से बचा सकते हैं

खांसी-जुकाम, इन्फेक्शन, बुखार, अस्थमा, गठिया, जोड़ों में दर्द, बालों का टूटना, एड़ियों का फटना, होंठ का फटना, शरीर में रूखापन इन समस्याओं से खुद को कैसे बचाएं बता रहे हैं हर्बल एक्सपर्ट दीपक आचार्य।

इन घरेलू नुस्खों से आप खुद को सर्दियों से बचा सकते हैं

mअदरक

साभार:इंटरनेटलखनऊ। सर्दी के मौसम के शुरू होते ही खांसी-जुकाम, इन्फेक्शन, बुखार, अस्थमा, गठिया, जोड़ों में दर्द, बालों का टूटना, एड़ियों व होंठ का फटना, शरीर में रूखापन होना, समस्याएं शुरू हो जाती हैं। इन समस्याओं से खुद को कैसे बचाया जा सकता है इस विषय में बता रहे हैं हर्बल एक्सपर्ट दीपक आचार्य।


ठंड में जोड़ दर्द के बचाव

जोड़ों में जब दर्द शुरू होता है तो उसकी वजह कई अलग-अलग होते हैं। ठंड के समय कई लोगों में यूरिक एसिड का प्रोडक्शन बढ़ जाता है, जिसकी वजह से शरीर के सभी जोड़ों में दर्द शुरू हो जाता है। इससे बचने के लिए अदरक सबसे अच्छा उपाय है। अदरक किसी भी तरह की दाह, जलन, दर्द को खत्म करने में मदद करता है। अदरक के रस का सेवन करना चाहिए, जब आप अदरक के रस को निकालकर पीते हैं तो शरीर में बढ़ने वाले यूरिक एसिड के प्रोडक्शन को कम करने में मदद कर रहा है। अदरक की एक गाँठ लेकर उसका रस बनाकर उसे छान लें और उसका सेवन शुरू करें। इससे आप कफ तो निकल ही जायेगा इसके साथ-साथ जोड़ों में दर्द को भी खत्म कर देगा।

अदरक   साभार:इंटरनेट

अदरक

साभार:इंटरनेट

ये भी पढ़ें- आज की हर्बल टिप्स : बाल झड़ने से रोकना है तो गुड़हल के फूलों का करिए इस्तेमाल

बाल टूटने से रोकने के उपाय

हमेशा देखा जाता है कि कंघी करते समय कंघी में बाल फंसे दिख जाते हैं तो इससे लोग काफी परेशान हो जाते हैं उन्हें लगता है बाल गिरना शुरू हो गया है। रोजाना 200-300 बालों का टूटना बड़ी आम बात होती है इसलिए चिंता करने की कोई बात नहीं है। आप एक चीज देखने की आवश्यकता है कि आपने परिवार में बाल टूटने की या गंजेपन की किसी को कोई समस्या तो नहीं है। अगर आपको बाल गिरने की समस्या है तो आप अरंडी के तेल का प्रयोग कर सकते हैं। इसे रात में सोने से पहले लगा लीजिये और सुबह उठकर धुल लीजिये। अरंडी का तेल थोड़ा चिपचिपा होता है इसलिए आपको तकलीफ होगी लेकिन अगर किसी समस्या का हल लेना है तो तकलीफ सह लेनी चाहिए। इसके अलावा नहाने से पहले गुड़हल के फूल को हाथ में घिस कर बालों में लगा लेना चाहिए क्योंकि गुड़हल बालों पर कंडीशनर का काम करता है।

गुड़हल   साभार:इंटरनेट

गुड़हल

साभार:इंटरनेट

ये भी पढ़ें- छोटे छोटे देसी नुस्खे आपके शरीर में ऊर्जा बनाए रखते हैं

अस्थमा से बचाव

अस्थमा, खांसी, छींक और एलर्जी की जिसे भी समस्या है उसके लिए सबसे अच्छा उपाय मुलैठी है। मुलैठी का पाउडर रोज सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में लेना चाहिए। अगर आप मुलैठी का नियमित प्रयोग करेंगे तो आपको इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा। मैंने ऐसे लोगों देखा है जिन्होंने मुलैठी का प्रयोग किया और उन्हें 10 वर्षों से खांसी, छींक और साँस तक की समस्याओं से छुटकारा मिल गया है।

मुलैठी   साभार:इंटरनेट

मुलैठी

साभार:इंटरनेट

ये भी पढ़ें- बच्चों को अगर पेट के कीड़े सताएं तो अपनाएं ये हर्बल उपाय

धूप से होने वाली एलर्जी से बचाव

अगर आपको धूप से एलर्जी है तो आपने महसूस किया होगा कि गर्मी में ज्यादा दिक्कत होती होगी। गर्मी हो या सर्दी अगर आपको धूप से एलर्जी है तो सोंठ यानि कि सूखी अदरक उसे पानी के साथ में कूच लें और उसका रस शरीर पर लगायें। इसके अलाव महुए के पेड़ में आपये जाने वाले फल, जिसे गुल्ली कहते हैं उससे तेल निकाला जाता है। इसे महुए का तेल कहते हैं इस तेल को अपने शरीर पर लगाना है और एलर्जी से आपको छुटकारा मिल जायेगा।

सोंठ   साभार: इंटरनेट

सोंठ

साभार: इंटरनेट

रात में खाना खाने के बाद हल्दी और शहद बराबर मात्रा में मिलाकर चाट लेना है लेकिन ध्यान रखें इसे खाने के बाद कोई दूसरी चीज खानी नहीं है। इसके अलावा अदरक और काली मिर्च का नियमित प्रयोग करें आप स्वस्थ रहेंगे। अगर आपको एड़ी फटने की दिक्कत है तो नेचुरल वैक्स का प्रयोग करें इस समस्या से भी आपको छुटकारा मिल जायेगा।

ये भी पढ़ें- सर्दियों में संजीवनी है तुलसी, पढ़िए सर्दी-जुखाम और पथरी समेत किन-किन बीमारियों में कारगर है तुलसी

Share it
Top