ताकि न हो सर्दियों में आपके शरीर में पानी की कमी

Astha SinghAstha Singh   2 Nov 2017 7:39 PM GMT

ताकि न हो सर्दियों में आपके शरीर में पानी की कमीप्रतीकात्मक फोटो 

लखनऊ। अक्‍सर लोग जितना पानी गर्मी के दिनों में पीते हैं उतना सर्दियों में नहीं पीते। जबकि हमारी बॉडी को हर मौसम पानी की जरूरत होती है, इससे डिहाइड्रेशन की समस्‍या नहीं होती। शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालने के लिए पानी पीना जरूरी है लेकिन सर्दियों में चाहकर भी ज्यादा पानी नहीं पीया जाता ऐसे में आप आहार में ऐसे फल और सब्जियों को शामिल कर सकते हैं जो पानी की कमी को पूरा कर देते हैं क्योंकि यह आहार भी तरल पदार्थ के रूप में विषैले तत्वों को बाहर निकालते का काम करते हैं।

ये भी पढ़ें- स्ट्रोक होने के तीन घंटे के अंदर अस्पताल पहुंचे तो संभव है इलाज : डॉ. आरके गर्ग

इन पदार्थों का करे सेवन

पालक

हरी पत्तेदार सब्जियों में पालक सबसे बैस्ट है। इसमें प्रोटीन,विटामिन,आयरन के अलावा और भी बहुत से तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। सब्जियों के साथ पालक का सूप पीने से शरीर में पानी की कमी पूरी होती है। पालक को आप सब्जी के रूप में भी खा सकते हैं।

ब्रोकली

भले ही ब्रोकली खाने में बेस्वाद लगे लेकिन इसमें 89 प्रतिशत पानी का मात्रा होती है इसके अलावा उसमें अन्य बहुत पोषक तत्व मौजूद होते हैं, इसलिए इसे उबाल कर खाएं। शरीर को काफी मात्रा में पानी मिलेगा।

दही

सर्दियों में आप सुबह ब्रेकफास्ट व लंच के समय आप दही का सेवन कर सकते हैं। इसमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूती देता है। इसमें पानी के 85 प्रतिशत अवयव होते हैं। सुबह के नाश्ते में दही और लस्सी का सेवन करने से पानी की कमी पूरी हो जाती है।

चावल

चावल पकाने के बाद इसमें 70 प्रतिशत पानी के अवयव होते हैं जो शरीर में पानी की कमी को पूरा करने में मददगार है। इसके अलावा इसमें आयरन,कार्बोहाइड्रेट जैसे जरूरी तत्व भी शामिल होते हैं। आप फ्राइड की बजाए उबले चावलों का सेवन करें तो बेहतर है।

सेब

सेब में 89 प्रतिशत पानी होता है और यह फाइबर, विटामिन सी, कैल्शियम व अन्य पोषक तत्वों का सबसे बेहतरीन स्रोत है। इसे रोजाना की डाइट में जरूर शामिल करें।

नींबू

नींबू में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है। नींबू शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मददगार हैं। सलाद और फलों के साथ नींबू का सेवन करना अच्छा है।

ये भी पढ़ें- जानें स्तन कैंसर से बचाव के तरीके

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top