इन तरीकों से खुद कर सकते हैं फेफड़ों की सफाई

जब फेफड़े बीमारी के शिकार हो जाते हैं तो कार्बन डाइऑक्साइड निकालने और पर्याप्त ऑक्सीजन लेने का काम सही तरीके से नहीं कर पाते हैं

इन तरीकों से खुद कर सकते हैं फेफड़ों की सफाई

लखनऊ। प्रदूषित वायु हमारे फेफड़ों को खराब कर रही है। आजकल फेफड़ों में इंफेक्शन की समस्या बढ़ती जा रही है। इन सबका सबसे बड़ा कारण खराब वायु प्रदूषण है। जब हम सांस लेते हैं तो अधिक से अधिक ऑक्सीजन हमारे फेफड़ों को मिले यह जरूरी है, लेकिन लगातार प्रदूषित हवा में सांस लेते हैं तो इनके खराब होने की संभावना अधिक होती है। आज हम बता रहे हैं फेफड़ों को सुरक्षित रखने व देखरेख करने के आसान तरीके।

जब फेफड़े रोग ग्रस्त हो जाते हैं तो यह कार्बन डाइऑक्साइड निकालने और पर्याप्त ऑक्सीजन लेने का काम सही तरीके से नहीं कर पाते हैं। अगर फेफड़ों के रोग के शुरुआती लक्षण पता चल जाएं तो गंभीर बीमारी से बचा जा सकता है।

प्रदूषण मुक्त लखनऊ अभियान के संयोजक और केजीएमयू के सांस रोग विभागाध्यक्ष डॉ. सूर्यकांत ने बताया, " वायु प्रदूषण के चलते सांस के द्वारा फेफड़ों में पहुंच रही गंदगी को साफ करना भी जरूरी है, अन्‍यथा आप सांस संबंधी रोगों की चपेट में आ सकते हैं। वायु प्रदूषण दूर करने के उपायों के साथ ही सही तरीके से भाप लेकर फेफड़ों की गंदगी को साफ किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें:सावधान : ये स्मॉग आपको दे सकता है फेफड़े का कैंसर

साभार: इंटरनेटसाभार: इंटरनेट

फेफड़े से संबंधित बीमारियां

-अस्थमा

-क्रानिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज

-सिस्टिक फ्राइब्रोसिस

-फेफड़े का कैंसर

-निमोनिया

ये भी पढ़ें: मास्क छोड़िए , गाँव का गमछा प्रदूषण से आपको बचाएगा ...


डॉ. सूर्यकांत ने आगे बताया, " इस मौसम में सांस के रोगियों को डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। साथ ही अगर इनहेलर ले रहे हैं तो उसकी डोज दोगुनी कर देनी चाहिए। सांस रोगियों साथ-साथ स्वस्थ लोगों को भी सचेत रहना चाहिए। "

- सुबह-शाम पानी का भांप लें

- सुबह के वक्त टहलने मत जाएं

- धूप में एक घंटा जरूर बिताएं

ये भी पढ़ें: ठंडी में पीजिये हल्दी वाला दूध, रहिये संक्रमण से दूर


- ठंडी हवा बहने पर बाहर न जाएं

- प्रदूषण वाले एरिया में जाने से बचें

- सांस की वैक्सीन लगवा सकते हैं

- नियमित रूप से पोषक तत्वों से भरपूर भोजन लें

ये भी पढ़ें: अनार के छिलकों को फेंकना बंद करें


इन तरीकों से भी कर सकते हैं सफाई

डॉक्टर सूर्यकांत ने बताया, हमारे किचन में बहुत सी ऐसी चीजें हैं जिनके प्रयोग से हम अपने फेफड़ों को स्वस्थ रख सकते हैं।

पानी

फेफड़ों की सेहत को दुरुस्त बनाए रखने के लिए पानी बेहद जरूरी होता है। पानी से फेफड़े हाइड्रेट (गीले) बने रहते हैं और फेफड़ों की गंदगी इसी गीलेपन की वजह से बाहर निकल पाती है और फेफड़े सेहतमंद रहते हैं।

हल्दी

इसके साथ ही एक गिलास पानी में आधा चम्मच हल्दी पाऊडर डालकर पीने से फेफड़े सेहतमंद रहते हैं।

खड़े मसाले

सब्जी के खड़े मसाले भी फेफड़ों डिटॉक्सिफाई करते रहें, इसलिए सब्जी में तेजपत्ता, दालचीनी और लहसुन का प्रयोग ज्यादा करना चाहिए

तुलसी

तुलसी के पत्ते फेफड़ों को स्वस्थ रखने के अलावा हमारे शरीर रोग मुक्त बनाए रखने में काफी मददगार होते हैं

ये भी पढ़ें: नाक बंद होने पर करते हैं नेज़ल स्प्रे का इस्तेमाल, ये हो सकते हैं नुकसान

साभार: इंटरनेटसाभार: इंटरनेट

एक आंकड़े के अनुसार भारत में जितने लोगों को कैंसर होता है उनमें से 25 प्रतिशत को फेफड़ों का कैंसर होता है। इसका सबसे बड़ा कारण धूम्रपान करना और वायु प्रदूषण है। तंबाकू से फेफड़ों पर असर होने व इसके कारण हर पांच सेकंड में एक मौत हो रही है। वहीं धूम्रपान के कारण 4 गुना तक हार्ट अटैक, लकवा का 2 से 4 प्रतिशत व 25 प्रतिशत फेफड़ों के कैंसर का खतरा बढ़ चुका हैस जिसे कम करना हर व्यक्ति के हाथ में हैं। प्रदूषण के चलते होने वाली मौत के आंकड़ों की बात करें तो एक साल में पूरे विश्‍व में 70 लाख, भारत में 12 लाख तथा उत्‍तर प्रदेश में दो लाख साठ हजार लोगों की मौत हो जाती है।

ये भी पढ़ें: कहीं आप भी प्राइवेट पार्ट साफ करने वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल तो नहीं कर रहीं?




Share it
Top