गुवाहाटी में भारत की हार के बाद आस्ट्रेलिया टीम की बस पर हमला, फिंच ने ट्वीट की फोटो

गुवाहाटी में भारत की हार के बाद आस्ट्रेलिया टीम की बस पर हमला, फिंच ने ट्वीट की फोटोहमले के बाद टूटा हुआ बस का विंडो ग्लास

गुवाहाटी। असम की राजधानी गुवाहाटी में टी-20 मैच के बाद बस से होटल लौट रही ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम पर पत्थर से हमला कर दिया। इस घटना में बस की विंडो ग्लासेस फूट गए। गनीमत रही कि कोई भी खिलाड़ी जख्मी नहीं हुआ।

एरोन फिंच ने ट्विट की तस्वीर

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि टीम जब वापस लौट रही थी, उस दौरान बस की दाहिनी ओर हमला किया गया। गनीमत ये रही कि उस साइड कोई नहीं बैठा था। ऑस्ट्रेलियाई ओपनर एरोन फिंच ने ट्विटर पर तस्वीर भी शेयर की। घटना के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

खिलाड़ियों ने की हमने की निंदा

कई खिलाड़ियों ने इस हमले की निंदा की। पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने इसको गैरजिम्मेदाराना हरकत बताया और माफी मांगी। उन्होंने कहा कि उम्मीद है दोषी को सजा होगी।

आस्ट्रेलिया ने आठ विकेट से जीता मैच

मंगलवार को गुवाहाटी में खेले गए दूसरे टी-20 मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को 8 विकेट से हराकर तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है। इसी के साथ ही टीम इंडिया का ऑस्ट्रेलिया पर टी-20 सीरीज में लगातार दूसरी बार क्लीन स्वीप करने का सपना भी टूट गया है।

पहले भी हो चुका है ऑस्ट्रेलिया टीम पर हमला

बांग्लादेश में पिछले महीने हुई दो मैचों की टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच के दौरान भी ऑस्ट्रेलियाई टीम की सिक्युरिटी में भारी चूक सामने आई थी। उस वक्त भी टीम की बस पर पत्थर से हमला किया गया था, जिससे विंडो ग्लास फूट गया था। हालांकि, इस घटना में किसी खिलाड़ी को चोट नहीं आई थी।

ये भी पढ़ें:- मिसाल : मजहब की बेड़ियां तोड़ पिच पर उतरीं कश्मीरी महिला क्रिकेटर

पाकिस्तान में श्रीलंका टीम पर हुआ था आतंकी हमला

वर्ष 2009 श्रीलंका की क्रिकेट टीम पर लाहौर में आतंकी हमला हुआ था। इसमें श्रीलंका टीम के 6 खिलाड़ी जख्मी हुए थे। 6 पुलिसवाले और दो अन्य मारे गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी गुट लश्कर-ए-झांग्वी ने ली थी। किसी क्रिकेट टीम पर यह अब तक का सबसे बड़ा हमला है। इस घटना के बाद आईसीसी ने पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट मैच पर बैन लगा दिया था।

ये भी पढ़ें:-

FIFA U-17 World Cup : खेल के जरिए खोई बहनों को खोजना चाहती है ये लड़की, प्रधानमंत्री से लगाएगी गुहार

कभी माता-पिता ने खेलने से रोका था, घर से एक मौका मिला, और अब छा गई बिहार की खुशबू

फीफा वर्ल्ड कप 2017: खिलाड़ियों में कोई दर्जी का बेटा है तो कोई बढ़ई का, किसी की मां फुटपाथ पर सामान बेचती है

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top