महिला तीमारदार से अभद्रता पर जिला अस्पताल के डाक्टर की पिटाई

महिला तीमारदार से अभद्रता पर जिला अस्पताल के डाक्टर की पिटाईप्रतीकात्मक फोटो।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में सोमवार दोपहर जमकर बवाल हुआ। वार्ड में राउंड पर निकले वरिष्ठ फिजीशियन द्वारा महिला तीमारदार को धक्का देने पर वहां मौजूद रहे रिश्तेदारों ने डाक्टर की जमकर पिटाई कर दी। इस बीच डाक्टर ने भी बचाव में एक युवक को पीट दिया। इमरजेंसी वार्ड में डाक्टर के साथ मारपीट की जानकारी मिलते ही वहां मौजूदस स्टाफ नर्स ने बीच बचाव कर डाक्टर को बचाया। साथ ही घटना की सूचना पुलिस को दी।

इस बीच डाक्टर की अभद्रता से नाराज लोगों ने इमरजेंसी का घेराव कर दिया। बवाल की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से मामले को शांत कराने के बाद डाक्टर को इमरजेंसी वार्ड से बाहर निकाला। तीमारदारों द्वारा मारपीट का शिकार हुए डाक्टर ने मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट के तहत पुलिस को घटना की तहरीर दी है।

ये भी पढ़ें : उन्नाव पुलिस अपनों से दूर रहने वाले बुजुर्गों का बनेगी सहारा

कोतवाली क्षेत्र के पहलीखेड़ा में रहने वाली कंचन पत्नी गुड्डू ने कुछ दिन पहले घरेलू विवाद में डाई पी ली थी। इलाज के लिए कंचन को जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया था। सोमवार दोपहर कंचन का हाल चाल जानने के लिए उसकी चाची मालती पत्नी राजाराम अस्पताल आई हुई थी।

इमरजेंसी वार्ड में वह कंचन से बातचीत कर ही रही थी तभी अस्पताल में तैनात वरिष्ठ फिजीशियन डॉ जेपी बाजपेई इमरजेंसी वार्ड में राउंड पर पहुंच गए। कंचन के साथ मौजूद रहे तीमारदारों का आरोप है, डाक्टर जेपी बाजपेई ने मालती पत्नी राजाराम को धक्का दे दिया। इस बात का जब मालती के साथ मौजूद रहे लोगों ने विरोध किया तो डाक्टर ने अभद्रता शुरू कर दी। आरोप है कि डाक्टर ने मालती को थप्पड़ जड़ दिया था। जिस पर मालती के साथ मौजूद रहे अमित कुमार पुत्र संतप्रसाद ने डाक्टर को कई थप्पड़ जड़ दिए।

तीमारदारों व डाक्टर के बीच मारपीट होते ही इमरजेंसी वार्ड में हडक़ंप मच गया। इस बीच सूचना मिलते ही स्टाफ नर्स वार्ड में पहुंच गई। यहां उन्होंने आक्रोशित तीमारदारों को समझाने के साथ ही डाक्टर जेपी बाजपेई को तीमारदारों के बीच से बाहर निकाला। साथ ही उन्हें लेकर स्टाफ रूम में लेकर गई। उधर डाक्टर द्वारा अभद्रता करने के बाद इमरजेंसी वार्ड में मौजूद रहे तीमारदार एकजुट हो गए और वार्ड का घेराव शुरू कर दिया। मामले के तूल पकड़ते ही स्टाफ नर्स द्वारा घटना की सूचना सीएमएस डॉ. एसपी चौधरी को देने के साथ ही पुलिस को दी गई।

ये भी पढ़ें : उन्नाव : प्रत्येक गेहूं क्रय केन्द्रों पर हों तीन कांटें-डीएम

सूचना मिलते ही अस्पताल चौकी व सीएमएस मौके पर पहुंच गए। यहां उन्होंने आक्रोशित तीमारदारों के साथ बात करने के बाद लोगों को शांत कराया। साथ ही चौकी पुलिस ने डॉ जेपी बाजपेई को इमरजेंसी वार्ड से बाहर निकालकर उन्हें अस्पताल की आेपीडी में भेजा। तीमारदारों का आरेाप था कि डॉ. जेपी बाजपेई द्वारा लगातार मरीजों से अभद्रता की जाती है। कंचन के साथ मौजूद रहे लोगों ने डाक्टर द्वारा महिला को थप्पड़ मारने का आरोप लगाया है। हालांकि उनके द्वारा पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई है।

जिला अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशिन डॉ. जेपी बाजपेई ने बताया, वह इमरजेंसी वार्ड में राउंड पर गए हुए थे। तभी मरीज कंचन के आसपास तीमारदारों ने भीड़ लगा रखी थी। उनके साथ स्टाफ नर्स और वार्ड ब्वाय मौजूद था। जब उन्होंने तीमारदारों को हटाने का प्रयास किया तो उन्होंने अभद्रता शुरू कर दी। साथ ही एक युवक ने उन पर हमला किया जिससे उनका चश्मा जमीन पर गिर गया। ”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top