ईंधन न मिलने से जिले में सरकारी एंबुलेंस सेवा ठप्प

Ishtyak KhanIshtyak Khan   6 Aug 2017 11:19 AM GMT

ईंधन न मिलने से जिले में सरकारी एंबुलेंस सेवा ठप्पसंचालित न होने से खड़ी एंबुलेंस। 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर तरीके से चलाने के लिये चल रही है एंबुलेंस 108, 102 और एडवांस लाइफ सपोर्ट, कंपनी द्वारा ईंधन न मिलने से ठप्प हो गई है। इससे गर्भवती और गंभीर मरीजों को अस्पताल पहुंचने के लिए अपने साधन का प्रयोग करना पड़ रहा है। कंपनी ने दो सप्ताह से ईंधन नहीं दिया है।

108 एंबुलेंस सेवा की शुरुआत जिले में जिस समय हुई थी लोगों ने राहत की सांस ली। इस एंबुलेंस से मरीज घर से लेकर अस्पताल तक पहुंचाया जाएगा। इसके साथ ही गर्भवती महिलाएं 102 एंबुलेंस का सहारा ले सकती है। लेकिन अब ये सहारा खत्म होते दिखाई दे रहा है। इसका मुख्य कारण ये है कि एंबुलेंस को चलाने वाली कंपनी जीवीकेईएमआरआई ने एंबुलेंस को ईंधन देना जिले पर बंद कर दिया है।

ये भी पढ़ें- जानलेवा गलघोंटू बीमारी से पशुओं को बचाएं

एंबुलेंस सेवा में लगे कर्मचारियों के सामने सबसे बडी समस्या खडी हो गई है। दो सप्ताह से पैसा न मिलने पर पेट्रोल पंप के मालिकों ने भी अब हाथ खड़े कर दिए हैं। ऐसी स्थिति में एंबुलेंस चल पाना संभव नहीं दिखाई दे रहा है। जिला अस्पताल में अपना चेकअप कराने आई गर्भवती रीशू (22वर्ष) निवासी पैगंबरपुर ने बताया,“ उसे अपना चेकअप कराना था। 102 पर काल की गई, लेकिन एंबुलेंस नहीं आई। इससे उसे फिर किराए की गाड़ी करके आना पड़ा।”

ये भी पढ़ें- सब्जियों और फलों का संरक्षण अब होगा आसान

जिला अस्पताल आई सुशीला देवी (34वर्ष) निवासी नांदपुर ने बताया,“ उसके पेट में दर्द उठ रहा था। घर के लोगों ने एंबुलेस को बुलाना चाहा। लेकिन एंबुलेस नहीं आई मजबूरन अस्पताल बाइक से जाना पड़ा।” 108 और 102 एंबुलेंस के जिला कोआर्डिनेटर जग विजय सिंह का कहना है,“ लगातार दो सप्ताह से ईंधन नहीं मिल रहा है। इसलिए मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में समस्या हो रही है। जिले में कुल 33 एंबुलेंस हैं । कंपनी से बात चल रही है दो-चार दिन में पैसा आ जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top