योगी सरकार के पहले बजट से खुश पूर्वांचल के किसान, कहा- ठीक से हो क्रियान्वयन

Jitendra TiwariJitendra Tiwari   11 July 2017 6:22 PM GMT

योगी सरकार के पहले बजट से खुश पूर्वांचल के किसान, कहा- ठीक से हो क्रियान्वयनयोगी सरकार का पहला बजट मंगलवार को विधानसभा में प्रस्तुत किया गया।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

गोरखपुर। प्रदेश की योगी सरकार के पहले बजट से पूर्वांचल के किसान काफी उत्साहित हैं। उनका मानना है कि इस बजट में गाँव व गरीब के कल्याण के साथ-साथ आमजन के कल्याण के लिए खास जोर दिया गया है। बैंक ऋणमाफी का रास्ता साफ होने से किसान काफी गदगद है। गाँव कनेक्शन की टीम ने जिले के विभिन्न इलकों के किसानों व आम लोगों से बातकर उनकी राय जानी। लोगों का कहना था कि अब नौकरशाहों पर सारा दारोमदार है, कि वे किस तरह योजनाओं को धरातक पर उतारते हैं।

दरअसल, सरकार की ओर से गाँव, गरीब के कल्याण के साथ-साथ शिक्षा, चिकित्सा सहित विभिन्न योजनाओं पर जोर दिया है, जिससे कि आमजन का भला हो सके। गगहा ब्लॉक के बेदुली गाँव निवासी उदयप्रताप सिंह (40 वर्ष) ने कहा, “ प्रदेश की योगी सरकार सही दिशा में काम कर रही है। सरकार अपना वादा निभाने में अभी तक सक्षम है। बस जरूरत है नौकशाहों को आगे आकर सभी योजनाओं को धरातल पर उतारने की।”

संबंधित खबर : योगी सरकार का पहला बजट, जानिए किसानों और युवाओं को क्या मिला

वहीं, गगहा ब्लॉक के चांडी गाँव निवासी उपेंद्र राय (38 वर्ष) ने बताया,“ योगी सरकार ने अपना वादा निभाया है, अब अफसरों को चाहिए कि वे आगे आकर सरकार की योजनाओं से लोगों को लाभांवित करें। इसके लिए अफसरों को क्षेत्र का दौरा करना होगा।” ब्रह्मपुर ब्लॉक के पलिपा गाँव निवासी रामरूप गुप्ता (70 वर्ष) ने कहा,“ ऋणमाफी का रास्ता साफ होने से किसानों को काफी राहत होगा, यह बजट काफी उत्साहजनक है। इसमें सभी वर्गों का ख्याल रखा गया है।”

किसानों के हित में सरकार

ब्रह्मपुर ब्लॉक के मिठाबेल गाँव निवासी राजन दुबे (55 वर्ष) ने बताया, “ योगी सरकार किसानों के हित में काम कर रही है। यह सरकार आमजन की सरकार है। बजट में सभी वर्गों के कल्याण की बात की गई है। खाकर किसानों के कर्जमाफी का फैसला काफी सराहनीय है।'' बड़हलगंज ब्लॉक के दुबौली गाँव निवासी दिनेश दुबे (45 वर्ष) ने बताया,“ योगी सरकार से किसानों को ऋणमाफी को लेकर काफी उम्मीदें थी, जो पूरा हो गई। किसान इससे खुश हैं।”

उल्लेखनीय है कि बजट में 36000 करोड़ रुपये में लघु एवं सीमांत किसानों के लिए कर्जमाफी के अलावा गांव में घर, रोजगार, पीने का पानी, दुरुस्त सड़क, बेहतर पढ़ाई, अच्छी सफाई के अलावा पंचायतों को बढ़िया काम करने के लिए पुरस्कारों तक की घोषणा की गई। वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए 3 लाख 84 हजार 659 करोड़ का बजट पेश किया। 55,781 करोड़ रुपए की नई योजनाएं बजट में शामिल की गई हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top