इलाहाबाद ज़िले में कम बारिश ने बढ़ाई किसानों की मुसीबत 

Op singh parihaarOp singh parihaar   16 Sep 2017 5:15 PM GMT

इलाहाबाद ज़िले में कम बारिश ने बढ़ाई किसानों की मुसीबत फोटो - आशीष सागर ( साभार)

गाँव कनेक्शन, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

इलाहाबाद। कम बारिश होने की वजह से जिले के किसान बेहद परेशान हैं। कृषि विशेषज्ञ जिले में सूखा पड़ने की आशंका जताने लगे हैं। लिहाजा जिला प्रशासन सिंचाई के संसाधनों को दुरुस्त करने में जुट गया है। जिलाधिकारी संजय कुमार ने जनपद में बढ़ रही सूखे की आशंका के मद्देनजर सिंचाई विभाग को सजग रहने को कहा है।

जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि गंगापार व यमुनापार के सभी क्षेत्रों में वे ब्लॉक वार हर गाँव के किसानों से स्वयं जाकर सम्पर्क करें तथा उनकी सिंचाई सम्बन्धी समस्याओं व मांगों को एकत्र करके दो दिन के भीतर रिपोर्ट पेश करें। जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को यह निर्देशित किया है कि वे संबधित बीडीओ के माध्यम से हर ब्लॉक के काश्तकारों से मिलकर क्षेत्रीय समस्याओं एवं सिंचाई संसाधनों के वास्तविक हाल का परीक्षण अपनी देखरेख में कराएं। जिले के सभी अधिकारियों ने तैयारी शुरु कर दी है।

ये भी पढ़े- सरकारी रिपोर्ट : किसान की आमदनी 4923 , खर्चा 6230 रुपए

फसल सूखने से किसान परेशान

जिले में कम बारिश होने की वजह से गंगा और यमुना नदी में पानी तली से ऊपर नहीं आ सका, जिससे नदी के किनारे पर बसे गाँवों के किसान सिंचाई को लेकर परेशान हो गए हैं। खेतों में लगी धान और हरी सब्जियों की फसल सूखने लगी हैं। कौड़िहार ब्लाक के भगवतीपुर के किसानों का कहना है कि कम बारिश के बीच बिजली कटौती कोढ़ में खाज जैसी स्थिति उत्पन्न कर रही है। इसके अलावा फाफामऊ क्षेत्र में गंगा नदी के किनारे हरी सब्जी की खेती करने वाले किसान बेहद परेशान हैं।

ये भी पढ़े- बड़े काम के होते हैं खरपतवार, अपनी आय बढ़ा सकते हैं किसान

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top