बैंकों में आधे से भी कम किसानों का हो सका है आधार लिंक

Jitendra TiwariJitendra Tiwari   5 Aug 2017 4:28 PM GMT

बैंकों में आधे से भी कम किसानों का हो सका है आधार लिंकप्रशासन की ओर से बैंकों को हरहाल में किसानों का आधार लिंक कराने का निर्देश दिया गया है।

गोरखपुर। जिले के 76533 लघु व सीमान्त किसानों का लगभग 235.86 करोड़ रुपये फसली ऋण माफ करने की तैयारी चल रही है। लेकिन अभी तक मात्र 28100 किसानों ने ही आधार कार्ड को अपने लोन खाते से लिंक कराया है।

प्रशासन की ओर से बैंकों को हरहाल में किसानों का आधार लिंक कराने का निर्देश दिया गया है। ताकि किसानों का जल्द से जल्द ऋणमोचन पत्र तैयार किया जा सके। हालांकि जिन किसानों का आधार कार्ड लोन खाते से लिंक हो चुका है उसके सत्यापन की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। कई किसानों के पास आधार कार्ड ही नहीं है, इसके लिए भी प्रशासन द्वारा आधार कार्ड बनाने की प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि कोई किसान छूटने न पाए। क्योंकि जिन किसानों का लोन खाता आधार कार्ड से लिंक नहीं होगा उन्हें योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

ये भी पढ़ें- अगर कराने जा रहे हैं ट्रेन में रिजर्वेशन, तो जान लीजिए... रेलवे ने बदले हैं कई नियम

बतादें कि किसानों द्वारा 31 मार्च 2016 तक लिए गये तथा 31 मार्च 2017 तक बकाया फसली ऋणों को रुपये एक लाख की सीमा तक माफ किया जाना है। इस योजना के अंर्तगत प्रथम चरण मे केवल उन्हीं ऋणी किसानों का ऋण माफ किया जायेगा। जिनके लोन खाते से उनका आधार कार्ड लिंक हों।

सरदारनगर ब्लॉक के रामपुर रकबा निवासी उमाशंकर मद्धेशिया (45 वर्ष) ने बताया,“ बैंक को आधार कार्ड दे दिया गया है, लेकिन अभी तक लिंक नहीं हो सका है।”सरदारनगर ब्लॉक के महदेवा जंगल निवासी नारद प्रसाद विश्वकर्मा (75 वर्ष) ने बताया, “आधार कार्ड लोन खाते से लिंक नहीं हो सका है, कुछ विलंब हो गया है।”

गोरखपुर के मुख्य विकास अधिकारी अनुज सिंह ने बताया कि किसानों से अपील की जाती है कि वे तत्काल संबंधित बैंक शाखा से संपर्क कर अपने लोन खाते से आधार कार्ड को लिंक करा लें। ताकि यथा शीघ्र उनके ऋण माफी की कार्रवाई की सकें। जिन किसानों के पास आधार कार्ड नहीं है वे तत्काल आधार कार्ड के लिए आवेदन कर दें। आधार कार्ड को अपने लोन खाते से लिंक नहीं कराने वाले किसानों को योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

ये भी पढ़ें- टमाटर मार्केट इंटेलीजेंस परियोजना : 14 साल से हो रही है रिसर्च, क्यों इतनी तेजी से बढ़ते हैं रेट

गोरखपुर के जिला कृषि अधिकारी अरविंद कुमार चौधरी ने बताया कि आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक कराने वाले किसानों को ही योजना का लाभ मिलेगा, इसके लिए प्रचार-प्रसार का काम तेज कर दिया गया है। ब्लॉक व पंचायत स्तर पर कर्मचारियों के माध्यम से किसानों को जागरूक किया जा रहा है।

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट-कृष्णमोहन दूबे

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top