पशुघर में तब्दील हो गया पंचायत घर 

पशुघर में तब्दील हो गया पंचायत घर गाँव के कुछ दबंगों ने पंचायत घर में कब्जा कर लिया।

बदन सिंह, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

कानपुर देहात। जिला मुख्यालय से 22 किलोमीटर दूर पूरब दिशा में सरवनखेड़ा ब्लॉक में ग्राम पंचायत निनायां शाहजहांपुर में सरकार ने लाखों रुपए खर्च कर पंचायत घर बनवाया था। पंचायत घर बनने के बाद गाँव के छोटे-मोटे कार्यक्रम और बैठक यहीं हुआ करती थी।

अगर गाँव में किसी की कोई समस्या भी होती थी तो इसी पंचायत में बैठकर समाधान हो जाता था। साल भर तो सब ठीक ठाक रहा, लेकिन इसके बाद गाँव के कुछ दबंगों की नजर पंचायत घर पर पड़ गई और उन दबंगों ने पंचायत घर में कब्जा कर लिया। कब्जा करने के बाद उसमें भूसा भर दिया और जानवर बांधने लगे।

ये भी पढ़ें- पानी बचाने के लिए अब आ चुकी है “पानी पंचायत सदस्य”

गाँव के निवासी शिवनंदा (60 वर्ष) बताते है, “कई साल से दबंगों ने पंचायत घर पर कब्जा करके इसे पशुघर बना दिया है। पशु दिन में बाहर रात में अन्दर बंधते हैं। दूसरे कमरे में भूसा भरा है और छत पर कंडे का ढेर लगा है। उन दबंगों की दबंगई इतनी हावी है कि किसी ग्रामीण की हिम्मत नहीं कि अपनी जुबान तक खोल सके।”

शिवदेवी (45 वर्ष) बताती हैं, “पंचायत घर खाली पड़ा था इसलिए वो लोग भूसा भरने लगे और जानवर भी बंधते हैं। दिक्कत तो होती है गाँव की बात है सरकारी जगह है तो कौन बोले।”मुख्य विकास अधिकारी केदारनाथ सिंह का कहना है, “मामले को गंभीरता से लिया गया है। जो भी कब्जा किए है उनसे तत्काल कब्जा हटवाया जाएगा और कठोर कार्रवाई की जाएगी।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top