तीन वर्ष बाद भी नहीं मिला शौचालय का अनुदान

Bheem kumarBheem kumar   13 Jun 2017 10:23 PM GMT

तीन वर्ष बाद भी नहीं मिला शौचालय का अनुदाननिर्माणाधीन शौचालय।

स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट
सोनभद्र। म्योरपुर ब्लॉक के ग्राम पड़री के चपरा टोला में तीन वर्षो में शौचालय के अनुदान के लिए मिले पैसे से एक भी शौचालय नहीं बन पाया है, हालत यह है कि गाँव की अधिकांश आबादी खुले में शौच जाने पर मजबूर हैं।


शौचालय के लाभार्थी विश्वनाथ गुप्ता 45 वर्ष ने ग्राम विकास अधिकारी व ग्राम प्रधान सुमित्रा देवी पर शौचालय के नाम पर पैसा हड़पने का आरोप लगाते हुये कहा,'' करीब तीन वर्ष पहले ही हमारे गाँव में 100 से अधिक लोगों के नाम पर शौचालय आए थें, जिन्हें ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम प्रधान सुमित्रा देवी द्वारा उक्त शौचालयों का निर्माण कराया जा रहा था, जिन्हें कुछ ही फीट उठाकर छोड़ दिया गया न तो दरवाजा लगवाया और न उन्हें पूरा बनवाया गया है।''

ये भी पढ़ें- टॉयलेट एक प्रेम कथा: अक्षय की फिल्म का ट्रेलर तो आपने देख लिया, शौचालय पर पूरी फिल्म हम आपको दिखाते हैं

इस बारे में खण्ड विकास अधिकारी, दुद्धी प्रवीणा नंद ने बताया,'' सभी ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत को पहले से ही निर्देशित किया गया है कि शौचालय बनवाने के लिए ग्रामीणों को हर संभव से बनवाया जाएगा और ग्राम प्रधानों ने कई गाँव में शौचालय बनवाए भी है और बाकी लोगों का भी जानकारी लेकर बनवाया जाएगा।''

इस पर ग्राम प्रधान तारावती देवी धनौरा ने कहा कि शौचालय की सूची भेजी गई है, जैसे ही शौचालय बनने का आदेश आएगा बाकी बचे लोगो का शौचालय बनवाया जाएगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top