प्रदेश की लड़कियों को मुफ्त ग्रेजुएट कराएगी योगी सरकार

प्रदेश की लड़कियों को मुफ्त ग्रेजुएट कराएगी योगी सरकारगरीबी के कारण स्कूल के आगे की पढाई नहीं कर पाने वाली लड़कियों में उत्साह 

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

पीलीभीत। प्रदेश सरकार ने ऐसी बालिकाओं के लिए जो इंटरमीडिएट पास करने के बाद धन के अभाव के कारण स्नातक की शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाती थीं, उनके लिए प्रदेश में अहिल्याबाई नि:शुल्क शिक्षा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत छात्राओं को मुफ्त स्नातक कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

प्रदेश सरकार ने रोहिलखंड विश्वविद्यालय, बरेली में स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाली बालिकाओं का डाटा मांगा है, ताकि उन्हें इस योजना से लाभांवित किया जा सके। इसके लिए सरकार ने 2017-18 वित्तीय वर्ष में बजट में अहिल्याबाई योजना के लिए 21 करोड़ रुपए की व्यवस्था की है, जबकि राज्य के अधिकांश विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

ये भी पढ़ें- इस स्कूल में शौचालय में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे, लाखों स्कूलों में नहीं है ब्लैकबोर्ड, हजारों की बिल्डिंग नहीं

हालांकि रोहिलखंड विश्वविद्यालय, बरेली में स्नातक प्रथम वर्ष की प्रवेश प्रक्रिया अभी चल रही है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि अब ऑनलाइन प्रवेश की वजह से सभी छात्राओं को डाटा हमारे पास उपलब्ध है। प्रवेश प्रक्रिया पूरी होते ही शासन को ब्यौरा भेज दिया जाएगा। अभी स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाली छात्राएं कॉलेजों में पूरी की फीस जमा कर रही हैं।

ये भी पढ़ें- झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाली लड़कियां इस युवक से बिना झिझक मांगती हैं सेनेटरी पैड

पैसे की कमी के कारण छोड़नी पड़ी पढ़ाई

इस योजना के बारे में जिरौनियां निवासी (50 वर्ष) मजदूर दरबारी लाल की पुत्री सीमा जिसने पिछले वर्ष इंटर की परीक्षा पास की थी, लेकिन पैसे की कमी के कारण पढ़ाई बीच में ही छोड़कर घर बैठ गई थी। इस वर्ष बीए प्रथम वर्ष में उपाधि महाविद्यालय पीलीभीत में प्रवेश लिया है। उसको यह पूर्ण विश्वास है कि उसके द्वारा जमा की गई फीस सरकार द्वारा वापस उसके खाते में डाल दी जाएगी, और उसको स्नातक की शिक्षा मुफ्त में प्रदान की जाएगी। वहीं उपाधि महाविद्यालय, पीलीभीत में शनिवार बहुत सारी छात्राएं प्रवेश लेने आईं। उनसे इस योजना के बारे में बात की गई। तो उन सभी के चेहरे पर ख़ुशी की एक लहर दिखाई दी। बरखेड़ा ब्लॉक के गाँव खमरिया में रहने वाले (45 वर्ष) किसान इस्लाम मोहम्मद की (19 वर्ष) पुत्री गुलनिशा ने ख़ुशी जाहिर करते हुए बताया, 'मैंने इसी वर्ष इंटर की परीक्षा पास की है।'

Share it
Top