युवक व महिला मंगल दल ढोल-मंजीरों की धुन पर देंगे स्वच्छता का सन्देश  

Mo. AmilMo. Amil   13 Oct 2017 9:26 AM GMT

युवक व महिला मंगल दल ढोल-मंजीरों की धुन पर देंगे स्वच्छता का सन्देश  प्रतीकात्मक चित्र 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

अलीगढ़। खेलकूद को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बनी युवक मंगल दल व महिला मंगल दल के सदस्य अब गाँव-गाँव में जाकर ग्रामीणों को ढोल-मंजीरों की धुन पर स्वच्छता का सन्देश देंगे, साथ ही यह दल ग्रामीणों को खुले में शौच न करने व घर-घर शौचालय निर्माण के लिए भी प्रेरित करेंगे, इसके लिए इन दलों के सदस्यों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

देश के प्रधानमन्त्री द्वारा स्वच्छ भारत और खुले में शौच पर पाबन्दी का सपना साकार करने के लिए अब हर प्रयास किए जाएंगे, योजनाओं को धरा पर लाने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं, इसी कढ़ी में अब ग्रामीणों को स्वच्छता और खुले में शौचमुक्त के प्रति जागरूक करने को युवक मंगल दल और महिला मंगल दल आगे आएगा|

ये भी पढ़ें- बीमारियों से बचने के लिए चलाया गया था सफाई अभियान, अधिकारियों ने अभियान पर ही लगा दी ‘झाड़ू’

जानकारी देते हुए मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चन्द्र ने बताया कि "स्वच्छ शौचालय गॉव वासियों द्वारा बनाये जाने एवं उपयोग में लाने हेतु प्रेरित करने के उद्देश्य से जनपद के समस्त युवक मंगल दल और महिला मंगल दल के सदस्यों में से भाषण एवं गाने बजाने वालों की एक टीम हारमोनियम, ढ़ोलक, मंजीरा आदि देकर पहले उनको प्रशिक्षण दिया जायेगा और 26 अक्टूबर से इन दलों को विभिन्न गॉवों में भेजा जायेगा जहां वह अपनी गीत, संगीत कला एवं भाषण आदि के माध्यम से ग्रामवासियों को स्वच्छ शौचालय बनवाने के लिये प्रेरित करेंगे।"

गाँव में रुकेंगे पांच दिन, प्रधान उठाएंगे खर्चा

ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए युवक मंगल व महिला मंगल दल की जो टीमें जिस गांवों में जाएंगी वह वहा पांच दिन रुककर ग्रामीणों को विस्तार पूर्वक जानकारी देंगी, जानकारी देते हुए मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चन्द्र ने बताया, "ग्रामीणों को स्वच्छता व खुले में शौचमुक्त के प्रति जागरूकता लाने के लिए पांच दिन तक यह टीम गॉव में ही प्रवास करेगी और इनके आने-जाने की व्यवस्था तथा भोजन-शयन की व्यवस्था ग्राम प्रधान द्वारा की जाएगी।"

ये भी पढ़ें- खराब सफाई व्यवस्था के कारण बहुत से पर्यटक भारत नहीं आते : जावड़ेकर

मंगल दल के सदस्यों को पढ़ाया स्वच्छता का पाठ

युवक मंगल दल व महिला मंगल दल के सदस्यों के साथ मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चन्द्र ने एक बैठक कर उन्हें स्वच्छता का पाठ पढ़ाया, उन्होंने ऐसे युवक-युवतियों के हाथ ऊपर उठवाये जो अब भी खुले में शौच करने के आदी हैं उनको मंच पर बुलाकर खुले में शौच करने से होने वाली परेशानियों और पर्यावरण दूषित होने के बारे में धैर्य से समझाया और उन्हीं को यह जिम्मेदारी सौंपी कि वह इस बुरी आदत को स्वयं तो छोडेंगे ही और दूसरों को भी सुधारेंगे।

ये भी पढ़ें- मलेरिया से बचकर रहना है तो अपने आस-पास रखें सफाई

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top