किसानों की आवाज बनेगी आम आदमी पार्टी : वैभव महेश्वरी

किसानों की आवाज बनेगी आम आदमी पार्टी : वैभव महेश्वरीकिसान प्रकोष्ठ का गठन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी संगठन के विस्तार के साथ किसानों के बीच जाने के और जनता के मुद्दों को भी केंद्र में लाने के लिए व्यापक कार्यक्रम बना रही है। इसके लिए पार्टी ने किसान प्रकोष्ठ, व्यापार प्रकोष्ठ, शिक्षा सुधार विंग, और स्वास्थ्य सुधार विंग का गठन किया है।

इन क्षेत्रों से संबंधित विशेषज्ञ और अनुभवी लोगों को शामिल करके इन वर्गों की समस्याओं के कारण और निवारण का व्यापक अध्ययन किया जाए और संघर्ष की एक विस्तृत योजना पर काम किया जाए।

पार्टी की लखनऊ इकाई ने जिलाध्यक्ष वैभव महेश्वरी की अध्यक्षता में हुई बैठक में अपने किसान प्रकोष्ठ की कमान, कृषि विशेषज्ञ संतोष अवस्थी को सौंपी। संतोष अवस्थी लम्बे समय से समाज सेवा के साथ कृषि से जुड़े रहे हैं। संतोष अवस्थी ने कहा, किसानों की समस्याओं पर एक विस्तृत किसान संवाद पत्र तैयार किया जाएगा और लखनऊ जिले के अंदर आने वाले तमाम गाँवों में छोटी-छोटी चौपाल और बैठक लगाकर किसान संवाद में इसको बांटा जाएगा। किसानों को अपनी समस्याओं पर संघर्ष के लिए पार्टी से जोड़ा जायेगा।"

यह भी पढ़ें- ऐसे ही कृषि निर्यात घटता गया तो कैसे दोगुनी होगी किसानों की आय ?

पार्टी ने महिला प्रकोष्ठ में लखनऊ जिले की अध्यक्ष पद पर शर्मा रहमान को नियुक्त किया। नियुक्ति के बाद रहमान ने कहा, "लखनऊ राजधानी होने के बाद भी महिलाओं की स्थिति अच्छी नहीं है, आए दिन महिला संबंधी अपराध यहां होते हैं, इसके अलावा भी महंगाई, बेरोजगारी, घरेलू हिंसा और तरह-तरह के अपराधों और दिक्कतों से महिलाओं को दो-चार होना पड़ता है। पार्टी इन समस्याओं पर काम करेगी और अधिक से अधिक महिलाओं को राजनीति में आने, अच्छी राजनीति का समर्थन करने को पार्टी के साथ जोड़ने के लिए बड़े स्तर पर कार्यक्रम चलाएगी।"

पार्टी की एजुकेशन रिफार्म कमेटी के अध्यक्ष घनश्याम श्रीवास्तव पहले से ही स्कूलों की बढ़ी हुई फीस पर आंदोलन चलाते रहे हैं। साथ ही माध्यमिक शिक्षा और उच्च शिक्षा में भी फैले भ्रष्टाचार पर भी व्यापक संघर्ष की योजना पर काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- बासमती की इस किस्म में नहीं लगेगा रोग, होगा अच्छा उत्पादन

अभी 24 मार्च को अवध जोन की एक महत्वपूर्ण बैठक कानपुर में की जानी प्रस्तावित है, जिसकी अध्यक्षता प्रदेश प्रभारी और सांसद संजय सिंह करेंगे।

इसके पहले लखनऊ में हुई एक बैठक में संजय सिंह ने अवध प्रान्त की संयोजिका अध्यक्षा बृज कुमारी को यह लक्ष्य दिया था कि वह जिलों की इकाई में सभी प्रकोष्ठों में सक्षम और तेज तर्रार कार्यकर्ताओं की नियुक्ति करें, इसके साथ ही प्रान्त की हर 2विधासभाओं पर एक विधानसभा सचिव की नियुक्ति भी करके 24 मार्च की बैठक में सूची सौंपें, जिसके मद्देनजर तैयारियां जोरों पर हैं |

ये भी पढ़ें- खेत छोड़ क्यों बार-बार सड़क पर उतरने को मजबूर हैं किसान ?

यह भी पढ़ें- पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए कलंक बन रही काली नदी, 1200 गाँव बीमारियों की चपेट में

Share it
Share it
Share it
Top