विधानसभा के बाहर आलू फेंकने वाले के कन्नौज के आरोपियों को मिली जमानत 

विधानसभा के बाहर आलू फेंकने वाले के कन्नौज के आरोपियों को मिली जमानत जिपं अध्यक्ष के पति समेत सपा के सभी कार्यकर्ताओं को सीजेएम ने 20-20 हजार के मुचलके पर छोड़ा 

कन्नौज। विधानसभा लखनऊ के बाहर आलू फेंकने वाले कन्नौज के सभी आरोपियों की बुधवार को जमानत हो गई। लखनऊ की मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सभी को 20-20 हजार के मुचलके पर रिहा कर दिया।

ये भी पढ़ें- यूपी विधानसभा के सामने आलू फेंकने के मामले में 2 गिरफ्तार 

एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार ने विधानसभा के बाहर आलू फेंकने के मामले में खुलासा करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष कन्नौज शिल्पी कटियार के पति संजीव उर्फ संजू कटियार, कन्नौज नगर पालिका परिषद क्षेत्र के सपा के टिकट पर चुनाव लड़े जयकुमार तिवारी उर्फ बडे़ बउअन, तिर्वा नगर पंचायत क्षेत्र से सपा के सिंबल पर चुनाव लड़े शिवेंद्र सिंह उर्फ कुक्कू चाैहान इनके भाई दीपेंद्र चैहान, खामा प्रधान प्रदीप उर्फ बंगाली प्रधान, फगुहा निवासी अंकित सिंह चाैहान, ठठिया के रिक्की यादव और संतोश पाल को आरोपी बताया था।

ये भी पढ़ें- अब मेरठ में भी नहीं मिल रहा आलू को ठिकाना  

उस दौरान एएसपी ने कहा था, ‘‘अंकित चैहान और संतोष पाल को पकड़ लिया गया है। अन्य छह लोगों की तलाष है।’’ खुलासे के बाद दोनों आरोपियों को लखनऊ की अदालत में पेश किया गया था, जहां से जमानत पर रिहा हो गए थे। बुधवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से करीब 160 किमी दूर कन्नौज जिले के तिर्वा कस्बे के बौद्धनगर निवासी और कुक्कू के भाई राजू चौहान ने बताया, ‘‘सीजेएम संध्या श्रीवास्वत ने छह लोगों को बेल दे दी। दो अंकित और संतोश की पहले ही बेल हो गई थी।’’

ये भी पढ़ें- आलू का हाल देख उत्पादन बढ़ने की खबरों से भी डर लगता है

राजू आगे बताते हैं कि ‘‘आईपीसी 431 लगाई गई थी जो जमानती धारा है। 20-20 हजार के मुचलके पर रिहा कर दिया गया है। छह लोग आज न्यायालय में सरेंडर हुए थे। दो दिन पहले कॉल फॉर रिपोर्ट डाली थी। दो लोगों की जमानत 14 जनवरी को ही हो गई थी।’’

Share it
Top