Top

गोरखपुर में बने मस्तिष्क ज्वर अनुसंधान केंद्र: योगी 

गोरखपुर में बने मस्तिष्क ज्वर अनुसंधान केंद्र: योगी गोरखपुर में अनुसंधान केंद्र की जरुरत ।

गोरखपुर(भाषा)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्वांचल में हर साल सैकड़ों बच्चों की मौत का कारण बनने वाले मस्तिष्क ज्वर पर गहन शोध के लिये एक क्षेत्रीय वायरस अनुसंधान केंद्र की स्थापना की जरुरत पर जोर देते हुए आज कहा कि ऐसा किये बगैर इस जानलेवा बीमारी के खिलाफ जंग नहीं जीती जा सकती।

मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा ' 'पूर्वी उत्तर प्रदेश की बनावट ऐसी है कि हम संचारी रोगों से लड़ाई को तब तक नहीं जीत सकते जब तक यहां पूर्णकालिक वायरस रिसर्च सेंटर नहीं बन जाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गोरखपुर को एम्स दिया है लेकिन यहां पूर्णकालिक वायरस रिसर्च सेंटर भी होना चाहिये। ' ' योगी ने इंसेफेलाइटिस के खिलाफ अपनी लड़ाई के बारे में भावुक अंदाज में जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने बच्चों को मरते हुए देखा है। उन्होंने कहा, “इस मुद्दे पर मुझसे अधिक संवेदनशील और कौन हो सकता है। मैंने इस मुद्दे को सड़क से संसद तक उठाया है। इस बीमारी की पीड़ा मुझसे ज्यादा और कौन समझेगा। ' '

ये भी पढ़ें: गोरखपुर में बाल रोगों में गहन शोध के लिए रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर बनेगा : नड्डा

मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि प्रदेश के 35 जिलों में 90 लाख से ज्यादा बच्चों के टीकाकरण का सघन अभियान शुरु किया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद गोरखपुर मेडिकल कॉलेज का यह उनका चौथा दौरा है।

उन्होंने मेडिकल कॉलेज में 30 बच्चों की मौत की घटना के विषय में मीडिया की ओर इंगित करते हुए गलत रिपोर्टिंग ना करने की सलाह दी। योगी ने बताया कि प्रदेश के मुख्य सचिव और केंद्रीय सचिव इस घटना की जांच करके रिपोर्ट देंगे। दिल्ली की उच्च स्तरीय टीम भी पूरे मामले की जांच कर रही हैं। रिपोर्ट आते ही घटना में संलिप्त लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी। जिम्मेदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: कांग्रेस ने गोरखपुर में चार दिनों में 70 बच्चों की मौत को हत्या बताया,मुकदमा चलाने की मांग

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.