कन्नौज : आगजनी वाले गाँव पहुंचे डीएम, लेखपाल सस्पेंड, पीड़ितों को मिलेंगे आवास और शौचालय

कन्नौज : आगजनी वाले गाँव पहुंचे डीएम, लेखपाल सस्पेंड, पीड़ितों को मिलेंगे आवास और शौचालयसोमवार से सभी को मिलेगा मनरेगा के तहत काम, डीएम ने जाना हाल

आभा मिश्रा

कन्नौज। आग से तबाह हुए परिवारों को आवास और शौचालय मुहैया कराए जाएंगे। दोबारा राशन कार्ड भी बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई। कई बार फोन करने के बाद भी लेखपाल के न पहुंचने पर सस्पेंड कर दिया गया है।

10 मार्च को सदर कन्नौज क्षेत्र से करीब 16 किमी दूर गाँव भिम्मापुर्वा में आग से कई घरों की गृहस्थी जल गई थी। इससे काफी नुकसान हुआ था। रविवार को अग्निपीड़ितों का हाल जानने के लिए डीएम रवीन्द्र कुमार और सीडीओ अवधेश बहादुर सिंह कटरी अमीनाबाद के मजरा भिम्मापुर्वा खुद पहुंचे। साथ में तहसीलदार ऋशिकांत राजवंशी, बीडीओ धर्मेन्द्र यादव भी रहे।

एसडीएम सदर शालिनी प्रभाकर ने बताया, ‘‘अग्निकांड से पीड़ित लोगों की जो सूची बनी है उसमें 22 लोग हैं। सर (डीएम) ने कहा है कि सभी को प्रधानमंत्री आवास दिए जाएंगे। साथ में ही शौचालय भी मिलेंगे। राशनकार्ड भी जल गए हैं, वह भी दोबारा बनाए जाएंगे। इसके लिए बीडीओ और सचिव से कहा गया है।’’

ये भी पढ़ें- विशेष : कार में आग लग जाए तो घबराएं नहीं, अपनाएं ये उपाय 

एसडीएम आगे बताती हैं कि आवास के लिए मई-जून में पैसा आ जाएगा। खाना के लिए प्रधान और कोटेदार से कहा गया है। कल हम लोगों ने 10-10 किलो चावल व गेहूं व मिट्टी का तेल बंटवा दिया है। जो चेक दी गई हैं बैंक से सोमवार को कैश हो जाएंगी।

उन्होंने आगे बताया कि शनिवार को सुबह करीब पांच बजे आग लगी थी। तहसीलदार ने लेखपाल को फोन किया, लेकिन वह नहीं आया। गाँव भी नहीं पहुंचा। कोई रिपोर्ट भी तैयार नहीं की। आज डीएम साहब भी गाँव पहुंचे तब भी लेखपाल नहीं आया। इस पर डीएम साहब ने नाराजगी जताई और सस्पेंड करने के निर्देश दिए।

एसडीएम ने बताया कि लेखपाल प्रशांत त्रिपाठी कभी बैठक में भी नहीं आता है, उसे सस्पेंड कर दिया गया है। दूसरी ओर हिन्दू युवा वाहिनी के अनुज गुप्त ने गाँव पहुंचकर पीड़ितों को स्वल्पाहार वितरण किया। ब्रेड, लइया, नमकीन आदि पाकर पीड़ितों के चेहरों पर मुस्कान आई।

ये भी पढ़ें- सावधान : आखिर क्यों और कैसे कब्र या चिता बन जाती है आपकी कार ?

Tags:    Kannauj 
Share it
Top